आपका जिला

शूटिंग स्टार ऐश्वर्य प्रताप का सपना- 2024 ओलंपिक में देश के लिए गोल्ड मेडल जीतना

Khargone news: युवा भारतीय निशानेबाज ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर काफी सुर्खियों में हैं. खरगोन जिले के छोटे से गांव रतनपुर में रहने वाले किसान पुत्र ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर का उद्देश्य है 2024 में होने वाले ओलंपिक गेम्स में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत कर लाएं, 13 इंटरनेशनल और 42 नेशनल स्तर पर मेडल […]
Updated At: Mar 03, 2023 12:55 PM
Aishwarya Pratap's dream - to win gold medal for the country in 2024 Olympics
ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर

Khargone news: युवा भारतीय निशानेबाज ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर काफी सुर्खियों में हैं. खरगोन जिले के छोटे से गांव रतनपुर में रहने वाले किसान पुत्र ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर का उद्देश्य है 2024 में होने वाले ओलंपिक गेम्स में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत कर लाएं, 13 इंटरनेशनल और 42 नेशनल स्तर पर मेडल जीतने वाले ऐश्वर्य का सपना दुनिया के नक्शे पर अपने गांव और जिले की अलग पहचान बनाने का है. तोमर ने ये बात मिस्र के कायरो में आयोजित ISSF विश्व कप में शूटिंग गोल्ड मेडल जीत कर बापस खरगोन लौटने पर कही है.

तोमर ने पिछले हफ़्ते मिश्र के कायरो में आयोजित ISSF विश्व कप में पुरुषों की व्यक्तिगत 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता. इससे भारत ने टूर्नामेंट में अपना दबदबा बरकरार रखा. 22 वर्षीय तोमर ने पिछले साल चागवोन विश्व कप में भी स्वर्ण पदक जीता था. ऐश्वर्य प्रताप ने स्वर्ण पदक प्रतियोगिता में 16-6 से जीत हासिल कर ऑस्ट्रिया के अलेक्जेंडर शमिरल को आसानी से हराया था.

ऐश्वर्य का सपना वर्ल्ड रैंकिंग में भी टॉप रहे
बचपन से खिलौनों में पिस्टल और राइफल पसंद करने वाले खिलाड़ी ऐश्वर्य ने शूटिंग को ही अपना उद्देश्य बनाया.13 इंटरनेशनल और 42 नेशनल स्तर पर मेडल जीतने वाले ऐश्वर्य का सपना है देश की रैंकिंग में वो टॉप पर तो हैं. वर्ल्ड रैंकिंग में भी टॉप पर रहे उनका सपना है दुनिया के नक्शे पर अपने छोटे से गांव रतनपुर और खरगोन जिले की अलग पहचान हो वर्ष 2024 में होने वाले ओलंपिक गेम्स में देश के लिए गोल्ड मेडल लाना उनका मुख्य उद्देश्य है. ऐश्वर्य का कहना है मैं चाहता हूं जिले में शूटिंग के लिए बेहतर खिलाड़ी निकले वो जिस स्कूल में पढ़ते हैं स्कूल में शूटिंग सेक्शन शुरू किया जाना चाहिए जिससे उन्हें शुरूआत से ही अच्छा प्रशिक्षण मिल सके.

ये भी पढ़ें: गजब का जज्बा: ममता के हाथ-पैर नहीं, फिर भी लिख डाला हिंदी का पेपर, भावुक कर देगी ये कहानी

एमपी करेगा शूटिंग वर्ल्ड कप की मेजबानी
मध्य प्रदेश में पहली बार शूटिंग वर्ल्ड कप का आयोजन होने जा रहा है. इसमें दुनियाभर के शूटर भाग लेंगे. 20 मार्च से शुरू होने वाले आयोजन के लिए भोपाल में फाइनल शूटिंग रेंज का निर्माण किया जा रहा है. भोपाल में 20 मार्च से 31 मार्च तक शूटिंग वर्ल्ड कप का आयोजन होगा. गौरेगांव शूटिंग अकादमी में 10 मीटर, 25 मीटर और 50 मीटर इंडोर फाइनल शूटिंग रेंज तैयार हो रही है. इस पर फाइनल में पहुंचने वाले अंतरराष्ट्रीय शूटर फायर करेंगे. इस कॉमन फाइनल रेंज में 10 मीटर में 10 लेन, 25 मीटर में 15 लेन और 50 मीटर में 10 लेन होंगी. वर्ल्ड कप शूटिंग प्रतियोगिता में पांच-पांच इंवेट होंगे.

ऐश्वर्य के पिता किसान हैं
ऐश्वर्य के पिता वीर बहादुर सिंह भी बंदूकें रखते थे, इसलिए बहुत छोटी उम्र से ही ऐ श्वर्य इससे पूरी तरह वाकिफ हो गए थे. ‘राजपूत होने के कारण हम घर में हथियार रखते हैं. इसके अलावा मेरे पिता एक किसान हैं और वो बंदूकें रखते थे. छोटी उम्र से ही मैं खेतों में जाकर निशाना साधने की कोशिस करता था.

ऐश्वर्य ने जीता अपना दूसरा गोल्ड मेडल

Aishwarya Pratap's dream - to win gold medal for the country in 2024 Olympics
फोटो: उमेश रेवलिया


काहिरा में आयोजित ISSF विश्व कप में पुरुषों की व्यक्तिगत 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता है. रैंकिंग राउंड में ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर 406.4 अंकों के साथ शमिरल के बाद दूसरे स्थान पर रहे और मेडल मैच में जगह बनाई। इस बीच, श्योराण सातवें स्थान पर रहे. दिन में भारतीय महिला पिस्टल निशानेबान रिदम सांगवान ने क्वालीफाइंग राउंड में 589 अंक हासिल किए, वह दूसरे स्थान पर रहीं. वह रजत पदक विजेता जर्मनी की डोरेन वेनेकैंप से तीन अंक पीछे रह गईं.पिछले सप्ताह बुधवार के इस प्रदर्शन के साथ भारत के कुल छह पदक हो गए. इनमें चार स्वर्ण और दो कांस्य शामिल हैं. काहिरा शूटिंग विश्व कप पदक तालिका में शीर्ष स्थान पर है. जबकि, हंगरी दो स्वर्ण और एक रजत के साथ दूसरे स्थान पर है.

ये भी पढ़ें: विशेष: पश्चिमी मध्यप्रदेश और मालवा के इलाकों में शुरू हुआ ‘भगोरिया उत्सव’, भील जनजाति का है प्रमुख त्यौहार

मध्य प्रदेश की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए Mp Tak पर क्लिक करें
पैदाइशी आर्टिस्ट होते हैं इस मूलांक वाले लोग, अमिताभ बच्चन भी हैं इस लिस्ट में अनूठी है इस IAS कपल की Love Story, सृष्टि देशमुख की पति के साथ खूबसूरत तस्वीरें विकास दिव्यकीर्ति सर के फेवरेट हैं ये नेता, सुनकर रह जाएंगे दंग! बागेश्वर धाम में क्यों लगा सितारों का जमघट? ये है वजह छप्पड़ फाड़ पैसे कमाते हैं इस मूलांक वाले लोग, करोड़पति बनने का होता है योग बहन को खेत में सरसों काटते देख खुद को नहीं रोक पाए DSP साहब, सादगी देख चौंक गए लोग नूरी खान कौन हैं, जिन्होंने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले दिया कांग्रेस को बड़ा झटका? समय और मुहूर्त के साथ ये सब कुछ भी बताएगी वैदिक घड़ी, जानें क्यों हो रही चर्चा? मन ही मन प्रेम करती हैं इन तारीखों में जन्मीं लड़कियां, जल्दी नहीं खोलती हैं दिल के राज बेहद इमोशनल होते हैं इन तारीखों को जन्में लोग, रिश्ते भी लंबे नहीं चलते, जानें गोवा-मालदीव सबको फेल कर देंगे MP के ये 2 आईलैंड, मार्च में घूमने के लिए बेस्ट है ये जगह किसान की बेटी में ऐसा क्या पाया कि बहू बना लाए CM मोहन यादव, कौन है वो साधारण सी लड़की? बेहद खूबसूरत होती हैं इस मूलांक वाली लड़कियां, सबके दिलों पर करती हैं राज ये है विकास दिव्यकीर्ति सर की फेवरेट फिल्म, नाम जानकर रह जाएंगे दंग IAS बहन की शादी में खूबसूरत लुक में नजर आईं टीना डाबी, देखें तस्वीरें बेहद कंजूस होते हैं इन तारीखों को जन्में लोग, पाई-पाई का रखते हैं हिसाब इस मूलांक वाली लड़कियों की किस्मत में होती है बेवफाई, प्यार में मिलता है धोखा जन्नत जैसे खूबसूरत हैं MP ये 2 गांव, कश्मीर-गोवा से होती है तुलना घमंडी और जिद्दी होती हैं इन तारीखों को जन्मीं लड़कियां ससुराल में राज करती हैं इन तारीखों में जन्मीं लड़कियां, मिलता है ढेर सारा प्यार