mptak
Search Icon

इंदौर के युगपुरुष आश्रम में 6 बच्चों की मौत के बाद कलेक्टर का बड़ा खुलासा, आश्रम संचालकों पर होगी कार्रवाई!

धर्मेंद्र कुमार शर्मा

ADVERTISEMENT

इंदौर में छह बच्चों की मौत के बाद अब तक किसी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है.
indore_news
social share
google news

न्यूज़ हाइलाइट्स

point

कलेक्टर ने आश्रम संचालक को नोटिस भेजकर 3 दिन में जवाब मांगा है.

point

इंदौर के युगपुरुष धाम आश्रम में फूड पॉइजनिंग की वजह से बड़ी संख्या में बच्चे बीमार पड़े.

point

अस्पताल में अभी भी 20 बच्चों का उपचार जारी है. जिनमे से तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है.

Indore News: इंदौर के मल्हारगंज थाना क्षेत्र के पंचकुईयां स्थित युगपुरुष धाम आश्रम को लेकर कलेक्टर ने बताया कि अब तक इस आश्रम में 6 बच्चो को मौत हुई है. आश्रम के द्वारा मौतों को छुपाने का प्रयास किया जा रहा है. कलेक्टर ने बताया कि आश्रम संचालक को नोटिस भेजकर 3 दिन में जवाब मांगा है. प्रशासन दावा कर रहा है कि आश्रम संचालक पर कार्रवाई की जाएगी और बाकी बच्चे ठीक हैं, उनका उपचार चल रहा है. कुछ बच्चों की छुट्‌टी कर दी जाएगी.

आपको बता दें कि इंदौर के युगपुरुष धाम आश्रम में फूड पॉइजनिंग की वजह से बड़ी संख्या में बच्चे बीमार पड़े, जिनमें से 6 बच्चों की मौत अब तक यहां हाे चुकी है. बच्चों को चाचा नेहरू अस्पताल में भर्ती कराया गया है. ये आश्रम मानसिक रूप से बीमार और दिव्यांग बच्चों का आश्रम है. कलेक्टर ने इस मामले में एडीएम के नेतृत्व में जांच दल बनाकर आश्रम भेज दिया था, जिसकी रिपोर्ट के आधार पर आश्रम संचालकों पर कार्रवाई की जाएगी.

बीते दो दिन में यहां तीन बच्चों की मौत हो चुकी है. वहीं दोपहर में पांच साल के एक और स्पेशल चाइल्ड की मौत के साथ यह आंकड़ा 6  मौतों तक पहुंच चुका है. अस्पताल में अभी भी 20 बच्चों का उपचार जारी है. जिनमे से तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है.

इस तरह से आश्रम की लापरवाही हुई उजागर

इंदौर के मल्हारगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले इस आश्रम से मंगलवार को 12 बच्चों को उपचार के लिए चाचा नेहरू अस्पताल लाया गया था. जहां दो बच्चों की मौत हो गई थी. वही यह बात भी सामने आई थी कि 30 जून को एक 7 साल के बच्चे की मिर्गी का दौरा आने से मौत हो गई थी. मंगलवार दोपहर को 9 बच्चे और अस्पताल ले जाए गए. जिनमें से पांच वर्षीय छोटा गोविंदा की अस्पताल में मौत हो गई. बताया जा रहा है कि गोविंद इंदौर के निरंजनपुर बस्ती का रहने वाला है, जिसे महिला बाल विकास विभाग द्वारा इस आश्रम में भेजा गया था, जहां डिहाइड्रेशन के कारण बच्चों की मौत हो गई.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ये भी पढ़ें: Hathras Stampede: हाथरस हादसे में ग्वालियर की महिला की भी मौत, अस्पताल में इस हालात में मिला शव

छह बच्चों की मौत पर कांग्रेस का गंभीर आरोप 

यूगपुरुष धाम आश्रम के बच्चों के बीमार होने और छह बच्चों की मौत पर कांग्रेस के प्रदेश महासचिव ने ड्रग ट्रायल का आरोप गंभीर आरोप लगाया है., कहा- शासन प्रशासन करें इस मामले में जांच करवाए, स्वास्थ्य विभाग ने किया इस आरोप का खंडन किया है. कांग्रेस के प्रदेश महासचिव राकेश सिंह यादव के द्वारा आरोप लगाया गया है कि जिस तरीके से आश्रम में एक साथ बच्चों की तबीयत खराब हुई है, जिसमे इस केवल पेट संबंधी संक्रमण का नाम दिया जा रहा है. वह केवल संक्रमण न होकर ड्रग ट्रायल की ओर इशारा कर रहा है. 

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें: इंदौर के आश्रम में तबीयत बिगड़ने से 5 बच्चों की मौत, 16 अस्पताल में भर्ती, ठहाके लगाने वाले SDM को हटाया

ADVERTISEMENT

आश्रम के 3 महीने के फुटेज जब्त करने चाहिए: कांग्रेस

वहीं, इस मामले में शासन प्रशासन को आश्रम के 3 महीने के सीसीटीवी फुटेज जब्त करने चाहिए. उसमें देखना चाहिए कि कितनी बार आश्रम के बच्चों को अस्पताल लेकर गए हैं. वहीं इस मामले में जब सीएमएचओ से चर्चा की गई तब उन्होंने आश्रम में समय-समय पर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जाकर स्वास्थ्य परीक्षण किए जाने की बात कही. साथ ही ड्रग ट्रायल के आरोपों को उनका खंडन किया है.

ये भी पढ़ें- VIDEO: इंदौर नगर निगम की जानलेवा लापरवाही आई सामने! जानें, कैसे बची बच्ची की जान?

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT