प्रदर्शन करने उतरे छात्र तो आपा खो बैठी कॉलेज प्रिंसिपल, लोहे की रॉड से छात्रों को पीटा

उमेश रेवलिया

ADVERTISEMENT

Khargone News, mp news, Madhya pradesh, crime news, latest news, protest, खरगोन, खऱगोन न्यूज, College principal beats protesting students with iron rod in khargone
Khargone News, mp news, Madhya pradesh, crime news, latest news, protest, खरगोन, खऱगोन न्यूज, College principal beats protesting students with iron rod in khargone
social share
google news

Khargone News: मध्य प्रदेश के खरगोन में छात्रों के प्रदर्शन से बौखलाई कॉलेज प्रिंसिपल द्वारा नौजवान छात्रों को लोहे की रॉड से पीटने का मामला सामने आया है. दरअसल, छात्र प्रिंसिपल के ऊपर भ्रष्टाचार (Corruption) के आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. स्टूडेंट्स ने कॉलेज का ताला लगा दिया, इससे बौखलाई प्रिंसिपल ने छात्रों पर लोहे की रॉड तान दी और पीटने लगी.

देखें वीडियो…

Loading the player...

खरगोन जिला मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर मंडलेश्वर थाना क्षेत्र के शासकीय महाविद्यालय गांधीनगर मंडलेश्वर के छात्रों ने अनियमित और अव्यवस्था और भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए प्राचार्य के खिलाफ प्रदर्शन किया. प्राचार्य पर भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाते हुए एबीवीपी और महाविद्यालय के छात्रों ने धरना प्रदर्शन कर जमकर हंगामा किया.

प्रिंसिपल लोहे की रॉड से पीटने लगी

गुस्साए छात्रों ने महाविद्यालय के गेट पर ताला लगा दिया. गेट पर ताला देखकर महिला प्राचार्य अपना आपा खो बैठी और लोहे की रॉड उठाकर चैनल गेट पकड़कर विरोध कर रहे छात्रों के हाथों पर मारने लगीं, हालांकि अन्य प्रोफेसर्स ने उन्हें रोक दिया और उनके हाथ से रॉड छीन ली. मामले की जानकारी लगते ही मंडलेश्वर एसडीपी मनोहर सिंह गवली, थाना प्रभारी महेश्वर मंडलेश्वर पुलिस बल के साथ पहुंचे.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

उग्र आंदोलन की चेतावनी

ये पूरा घटनाक्रम 2 घंटे तक चलता रहा. थाना प्रभारी के समझाने के बाद भी छात्र नहीं माने और नारेबाजी करते रहे. उसके बाद कसरावद एसडीएम अग्रिम कुमार मौके पर पहुंचे. छात्रों ने चेतावनी देते हुए कहा कि तत्काल प्रभाव से कार्रवाई नहीं की जाती है तो विद्यार्थी परिषद द्वारा उग्र आंदोलन कर शिक्षा मंत्री का पुतला दहन करेगा.

भ्रष्टाचार के आरोप

एबीवीपी तहसील अध्यक्ष रौनक सोनी का कहना है कॉलेज बिल्डिंग जालंधर हो रही है हॉस्टल 5 साल से बंद है और भ्रष्टाचारी प्राचार्य ने अपने बेटे को हॉस्टल अधीक्षक बनाकर रखा है. 2023 में 35 लाख का सामान खरीदा गया. वो सामान भी सब रहा है, उसका बिल 35 लाख का लगा है, लेकिन समान मात्रा 5 लाख का है. इसके पहले भी हमने मांग की थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई. अब अगर कार्रवाई नहीं होती है तो उच्च शिक्षा मंत्री का पुतला जलाएंगे और विरोध जताएंगे.

ADVERTISEMENT

10 दिन में होगा निराकरण

एसडीएम अग्रिम कुमार का कहना है कुछ काम हमारे नॉलेज में आए हैं इसमें काम ठीक से नहीं हुआ है और पेमेंट हो गया है. हॉस्टल है जो बंद रहता है. 4-5 पॉइंट पर शिकायत मिली है. मेरे संज्ञान में आज ही आया है मैंने जांच के आदेश दे दिए हैं. 10 दिन में उसका निराकरण कर देंगे.

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव से पहले बड़ी वारदात, BSP नेता को सरेआम गोली मारकर उतारा मौत के घाट

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT