mptak
Search Icon

Gwalior: कोचिंग संचालकों पर कलेक्टर ने क्यों मारे छापे, आखिर ऐसा क्या हुआ, दर्ज हो गई एफआईआर

हेमंत शर्मा

ADVERTISEMENT

Gwalior News, Gwalior District Administration
Gwalior News, Gwalior District Administration
social share
google news

Gwalior Collector: मध्यप्रदेश में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है. इसकी वजह से कई शहरों में धारा 144 लागू है. लेकिन ग्वलियर में कोचिंग संचालक प्रशासन के आदेशों को नहीं मान रहे हैं. दोपहर में भी क्लासेस संचालित हो रही हैं. इससे स्थानीय प्रशासन भड़क गया. रविवार को अवकाश के दिन भी जब दोपहर में कोचिंग क्लासेस चलती मिली तो कलेक्टर रूचिका चौहान ने ताबड़तोड़ छापामार कार्रवाई करवा दी.

कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम विनोद सिंह ने शहर की कोचिंग क्लासेस में छापे मारे. लक्ष्मीबाई कॉलोनी, मुरार-सीपी कॉलोनी, कंपू, फूलबाग आदि इलाकों में मौजूद कोचिंग क्लासेस को चेक कराया गया. भीषण गर्मी में जहां लोग तपन से परेशान हैं, ऐसी गर्मी में भी कोचिंग क्लासेस चलती मिलीं और यह देखते हुए प्रशासन ने कोचिंग संचालकों के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई को अंजाम दिया.

एसडीएम विनोद सिंह ने बताया कि ग्वालियर कलेक्टर रुचिका चौहान ने भीषण गर्मी को देखते हुए जिलेभर में शिक्षण संस्थान पर धारा 144 लगाई है, ताकि बच्चे भीषण गर्मी में लू और बीमारी का शिकार ना हो. इसलिए 15 जून तक सुबह 6 बजे से 11 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है जिसमें कोचिंग चलाई जा सकती है.

लेकिन शिक्षण संस्थानों ने कलेक्टर के आदेश हवा में उड़ा दिए और अपनी मनमानी से शिक्षण संस्थान संचालित कर रहे हैं. इसी कड़ी में ग्वालियर के पड़ाव स्थित लक्ष्मीबाई कॉलोनी में कई कोचिंग कलेक्टर के आदेश को ताक पर रखकर मनमानी पूर्वक आदेश का उल्लंघन करते हुए समय सीमा के बाद भी कोचिंग संचालित कर रहे हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ये भी पढ़ेंMP Weather Update: ग्वालियर-चंबल में बरस रहे आग के गोले, कलेक्टर ने निकाला राहत भरा ये बड़ा आदेश

कोचिंग क्लास में बड़ी संख्या में मिले बच्चे

जिला प्रशासन के अधिकारियों ने दोपहर के समय में कोचिंग क्लासेस पर छापे मारे. दोपहर दो बजे की गई इस कार्रवाई के दौरान कोचिंग क्लासेस में बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं बैठे मिले. लक्ष्मी बाई कॉलोनी स्थित एक कोचिंग चल रही थी, उसमें भारी मात्रा में बच्चे पढाई कर रहे थे. सूचना पर जिला प्रशासन और पुलिस की संयुक्त टीम मौके पर पहुँची तो देखा की एक कोचिंग ( गर्ग क्लासेस) में बच्चे पढ़ रहे हैं और कड़ी धूप में ही घर जाएंगे. जिस पर प्रशासन ने कलेक्टर के आदेश धारा 144 का उल्लंघन करने वाले कोचिंग संचालक के खिलाफ धारा 188 की कार्रवाई की. कलेक्टर का कहना है कि अब हर दिन दोपहर में कोचिंग क्लासेस की जांच की जाएगी.

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें- MP: भीषण गर्मी का तांडव! ग्वालियर में लू लगने से भाई-बहन की मौत, कलेक्टर ने जारी किए निर्देश

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT