Breaking: पटवारी परीक्षा में नहीं हुई गड़बड़ी, जांच रिपोर्ट में क्लीन चिट; जल्द ज्वॉइन करेंगे पटवारी

रवीशपाल सिंह

ADVERTISEMENT

Rigging in PEB recruitment exam: Congress asked- BJP sold the posts of Patwari for how many crores?
Rigging in PEB recruitment exam: Congress asked- BJP sold the posts of Patwari for how many crores?
social share
google news

Madhya Pradesh Patwari Recruitment: मध्यप्रदेश पटवारी भर्ती से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है. पटवारी परीक्षा को राज्य सरकार की ओर से बनाई समिति ने क्लीन चिट दे दी है, जिसके बाद सामान्य प्रशासन विभाग ने पटवारी परीक्षा के चयनित अभ्यर्थियों को जॉइनिंग के निर्देश जारी कर दिए हैं. पटवारी परीक्षा पर गड़बड़ी के आरोप लगने के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज ने जांच के निर्देश दिए थे और जांच के लिए कमेटी बनाई थी.

अब जांच कमेटी ने पटवारी परीक्षा को क्लीन चिट दे दी है, जिसके बाद इसी महीने के अंत तक पटवारी भर्ती परीक्षा के चयनित अभ्यर्थियों को ज्वॉनिंग लेटर दिए जाने की तैयारी है. जांच समिति ने एमपी सरकार को 31 जनवरी को करीब 70 पन्नों की रिपोर्ट सौंपी थी.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पटवारी भर्ती में अब तक क्या हुआ?

बता दें की 22 नवंबर 2022 कर्मचारी चयन मंडल की ओर से ग्रुप-2 सब ग्रुप-4 और पटवारी की संयुक्त भर्ती परीक्षा के लिए नोटिफिकेशन जारी किया गया था. करीब 13 लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा में भाग लिया था और इसकी परीक्षा 15 मार्च से 25 अप्रैल 2023 तक चली. रिजल्ट 30 जून, 2023 को जारी हुए थे और इसमें 8,600 अभ्यर्थियों का चयन हुआ था लेकिन पटवारी भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी के आरोप लगे थे. मेरिट लिस्ट के 10 में से 7 टॉपर का सेंटर एक ही कॉलेज से परीक्षा देने वाले थे.

पटवारी भर्ती परीक्षा घोटाला

विधानसभा चुनाव से पहले पटवारी भर्ती परीक्षा में धांधली का मामला पूरे देश भर में गरमाया था. इसे लेकर जमकर विवाद हुआ था. हजारों अभ्यर्थी सड़क पर उतर गए थे और फिर मध्य प्रदेश के सबसे विवादित मामलों में शामिल रहा है. इस मामले में सबसे ज्यादा चर्चा में आए थे विधायक संजीव कुशवाह, जिनके ग्वालियर स्थित कॉलेज से एक साथ 7 टॉपर निकले थे. इसके बाद ही पटवारी भर्ती परीक्षा विवादों में आ गई थी. अभ्यर्थियों ने घोटाले के आरोप लगाए थे. पटवारी परीक्षा के अभ्यर्थियों ने प्रदेशभर में प्रदर्शन किये थे. विरोध प्रदर्शन् के बाद सरकार ने नतीजों और ज्वाॅइनिंग प्रक्रिया पर रोक लगा दी थी. मामले की जांच के निर्देश दिए गए थे.

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें: पटवारी भर्ती परीक्षा घोटाले पर बड़ी रिपोर्ट आई सामने, CM मोहन यादव अब क्या लेंगे एक्शन

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT