रायसेन: सब्जी वाले का बेटा आर्मी में बना पहला अग्निवीर, मेहनत लाई रंग

राजेश रजक

ADVERTISEMENT

Agniveer Yojna, MP News, Raisen Boy, Indian Army
Agniveer Yojna, MP News, Raisen Boy, Indian Army
social share
google news

Raisen News: रायसेन नगर के रहने वाले एक गरीब परिवार और सब्जी बेचने वाले पिता का बेटा रवि कुशवाह अब आर्मी का सिपाही बनेगा. रवि का अग्निवीर की मेरिट लिस्ट में नाम आ गया है. वह पहला अभ्यर्थी, जिसका अग्निवीर के लिए  चयन हुआ है. इस खबर से रवि कुशवाह का परिवार फूला नहीं समां रहा है. नगर में अग्निवीर युवक रवि कुशवाहा को बधाईयों का सिलसिला जारी है. रायसेन पहले अग्निवीर रवि कुशवाह के मित्र बंधु एवं शुभचिंतकों ने फूल माला पहनाकर एवं मिठाई खिलाकर बधाई दी एवं ढोल बाजों के साथ जमकर डांस किया.

रवि कुशवाह एक गरीब परिवार से नाता रखते हैं. रवि कुशवाह अपने माता पिता के साथ सब्जी की खेती कछवाड़ा कर खुद सब्जी बैंचता हैं और नगर के सांची रोड पर सब्जी का ठेला लगाता अपने माता-पिता का साथ देता है. परिवार में इतनी विषम परिस्थितियां होते हुए भी पढ़ाई जारी रखी. शारीरिक मेहनत करना भी जारी रखा. उसने बताया कि कड़ी मेहनत से सफलता मिली है.

देश सेवा की ललक ने मुकाम तक पहुंचाया
रवि कुशवाहा बने रायसेन जिले से पहले अग्निवीर. अग्निवीर भर्ती लिखित परीक्षा के जनरल ड्यूटी, तकनीकी और ट्रेडमैन के परिणाम आ गए हैं. रायसेन जिले से रवि कुशवाहा ने चयन सूची में 23वां नंबर प्राप्त किया है. सब्जी लगाने और बेचने वाले परिवार के रवि के मन में देश सेवा की ललक थी. जिसे अग्निवीर योजना ने पूरा किया है. ग्रेजुएट तक शिक्षित रवि कुशवाहा अग्निवीर के लिए रोज 5 से 6 घंटे तक फिजिकल मेहनत की.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

बता दें कि सेना भर्ती कार्यालय ने जनरल ड्यूटी, तकनीकी और ट्रेडमैन की लिखित परीक्षा आयोजित कराई थी. 3 ईएमई सेंटर बैरागढ़ पर 15 जनवरी को परीक्षा में 9 जिलों के अभ्यर्थी शामिल हुए थे. इसमें भोपाल, सीहोर, विदिशा, रायसेन, बैतूल, छिंदवाड़ा, हरदा, नर्मदापुरम और राजगढ़ के अभ्यर्थी शामिल हुए थे.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT