mptak
Search Icon

इंदौर बावड़ी हादसे के विरोध में यूथ कांग्रेस का प्रदर्शन, कफन लेकर सांसद का किया घेराव

धर्मेंद्र कुमार शर्मा

ADVERTISEMENT

Youth Congress, Congress Protest, Indore Bawdi Incident, Mp News, Madhya Pradesh
Youth Congress, Congress Protest, Indore Bawdi Incident, Mp News, Madhya Pradesh
social share
google news

Indore Bawadi Incident: इंदौर के बेलेश्वर मंदिर हुए दर्दनाक हादसे को लेकर अब सियासत शुरू हो गई है. इस हादसे में हुई 36 लोगों की मौत को लेकर जहां एक ओर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने बीजेपी सरकार कटघरे में खड़ा करने की तैयारी कर ली हैं, वहीं युवा कांग्रेस भी इस हादसे को लेकर सरकार के ऊपर आक्रोशित है. आज इंदौर में युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता सांसद शंकर लालवानी के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए उन्हें कफन भेंट करने पहुंच गए.

युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि 2 दिन पहले मंदिर हादसे में जिन 36 लोगों की जान गई है, उसके जिम्मेदार बहुत हद तक इंदौर सांसद शंकर लालवानी भी हैं. क्योंकि इस मंदिर निर्माण में इंदौर के सांसद शंकर लालवानी भी शामिल हैं. इस प्रदर्शन के दौरान युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प भी हुई. जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया.

कफन लेकर पहुंच गए कांग्रेसी
2 दिन पहले हुए इंदौर के पटेल नगर में बावड़ी धंसने के कारण 36 लोगों की मौत को लेकर युवा कांग्रेस ने जमकर गु्स्सा दिखाया. इसे लेकर प्रदर्शन करते हुए युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता इंदौर के सांसद शंकर लालवानी के आवास के बाहर उन्हें कफन भेंट करने पहुंच गए. इस तरह से कांग्रेस अपना विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. इसी बीच पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. हादसे के बाद से ही कांग्रेस नेता बीजेपी सरकार पर सवाल खड़े कर रहे हैं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

सांसद पर लगाए आरोप
युवा कांग्रेस द्वारा इंदौर सांसद शंकरलालवानी पर आरोप लगाया कि सांसद की मिली भगत से अवैध निर्माण किया जा रहा था और जब भी क्षेत्र के रहवासी निगम को शिकायत करते थे, उसी दौरान सांसद द्वारा कार्यवाही रुकवा दी जाती थी. इसी बात को लेकर युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भाजपा सांसद शंकर लालवानी के सरकारी निवास के बाहर प्रदर्शन कर कफन भेंट करने की कोशिश की. इस दौरान पुलिस ने युवा कांग्रेस के कई कार्यकर्ताओ को गिरफ्तार कर लिया.

इससे पहले कांग्रेस नेता कमलनाथ इंदौर पहुंचे थे और पीड़ितों से मुलाकात की थी. कमलनाथ ने 7 दिन के अंदर अवैध अतिक्रमण हटाने की मांग करते हुए शिवराज सरकार को कोर्ट जाने की चेतावनी दी थी. कमलनाथ ने रेसक्यू में हुई देरी के ऊपर भी सवाल उठाए थे.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT