अपना मध्यप्रदेश

सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया के बंगले का घेराव, वेतनवृद्धि समेत 4 मांगों पर अड़े कर्मचारी

Protest in Bhopal: सहकारिता समिति महासंघ के कर्मचारियों ने भोपाल में मध्यप्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविन्द सिंह भदौरिया के बंगले का घेराव किया गया है. कर्मचारी वेतनमान सहित 4 सूत्रीय मांगों को लेकर धरने पर बैठे हैं. कर्मचारियों का कहना है कि मांगों को लेकर सरकार को कई सालों से पत्र लिखे जा रहे हैं, […]
Protest, Cooperative Minister, Arvind Bhadoria, Protest, salary hike, 7th pay commission
फोटो: इजहार हसन खान

Protest in Bhopal: सहकारिता समिति महासंघ के कर्मचारियों ने भोपाल में मध्यप्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविन्द सिंह भदौरिया के बंगले का घेराव किया गया है. कर्मचारी वेतनमान सहित 4 सूत्रीय मांगों को लेकर धरने पर बैठे हैं. कर्मचारियों का कहना है कि मांगों को लेकर सरकार को कई सालों से पत्र लिखे जा रहे हैं, लेकिन सिर्फ मौखिक आश्वासन मिलता है. उन पर अमल नहीं किया जाता है. उनका कहना है कि जब तक उनकी मांगें नहीं मान ली जाती हैं. वे धरने पर डटे रहेंगे.

मामले को शांत कराने के लिए सहकारिता विभाग के अधिकारी कार्यकर्ताओं से बातचीत के लिए पहुंचे. उनका कहना है कि कार्यकर्ताओं की 4 में से 2 मांगे मान ली गई हैं. वेतन वृद्धि के सवाल पर कहा कि इसमें फूड डिपार्टमेंट भी जुड़ा है, विभाग से चर्चा के बाद फैसला किया जाएगा. कर्मचारी मांगों को नहीं माने जाने को लेकर नाराज हैं और सहकारिता मंत्री के बंगले के बाहर धरने पर बैठे हैं.

ये भी पढ़ें: 750 करोड़ की लागत से होगा नगरों की सड़कों का कायाकल्प, मुख्यमंत्री ने पहली किश्त को दी मंजूरी

वेतनवृद्धि समेत 4 मांगों पर अड़े कर्मचारी
कर्मचारी 4 प्रमुख मांगों का मुद्दा उठा रहे हैं. पहली मांग है कि सभी संस्था के कर्मचारियों का वेतनमान बढ़ाया जाए. लेखापाल से लेकर चौकीदार तक सभी के वेतनमानों में बढ़ोतरी हो. शासन की 2021 की रिपोर्ट लागू की जाए.दूसरी 60 परसेंट केंद्र भर्ती संशोधन आदेश. तीसरी 40 परसेंट डायरेक्ट भर्ती को रोका जाए और चौथी कोरोना काल में विक्रेताओं द्वारा ऑफलाइन वितरण किया गया, उसका रिकॉर्ड नहीं है, जिसकी जांच कर अधिकारियों द्वारा कार्रवाही की जाए. उन्होंने कहा कि जब तक चारों मांगे नहीं मानी जाएंगी तब तक धरना बंद नहीं करेंगे.

मांगें पूरी नहीं होने तक बैठेंगे धरने पर
धरना प्रदर्शन के दौरान सहकारिता समिति कर्मचारी महासंघ के लोगों ने नारे लगाए. उनका कहना है कि वे शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान पुलिस और प्रशासन की टीम भी मौजूद रही. कर्मचारियों की 2 मांगे मान ली गई हैं. वे चारों मांगों को पूरा कराने के लिए अड़े हैं. सहकारिता समिति कर्मचारी महासंघ का कहना है कि जब तक चारों मांगे पूरी नहीं होती हैं, वे धरने से नहीं हटेंगे.

मध्य प्रदेश की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए Mp Tak पर क्लिक करें
कौन हैं निशा बांगरे? जिन्होंने शिवराज सरकार को दे डाली चेतावनी MP के इस टाइगर रिजर्व में हाथियों की क्यों हो रही आवभगत, जानें MP का वो मंदिर जिसके सामने ट्रेन की स्पीड हो जाती स्लो! यहां भविष्य का होता है आभास एशिया कप में ‘प्लेयर ऑफ द सीरीज’ मिलने के बाद बागेश्वर धाम पहुंचा ये क्रिकेटर ओंकारेश्वर में आदि शंकराचार्य की सबसे ऊंची प्रतिमा तैयार, जानें नाम और ऊंचाई MP के इस मंदिर से है पुरानी संसद का खास कनेक्शन, जानें क्यों हो रही चर्चा? एक स्वप्न से जुड़ा है इस गणपति मंदिर के निर्माण का इतिहास, जानें रोचक किस्सा मध्य प्रदेश में यहां पर है हत्यारी खोह, जानें इसके पीछे की दिलचस्प कहानी ओंकारेश्वर में बाढ़ से मची तबाही क्या प्रशासन की लापरवाही का नतीजा? जानें टीना डाबी को लगा पाकिस्तानी महिला का आशीर्वाद? जानें क्यों हो रही चर्चा ट्रैक पर पहली बार दौड़ी भोपाल मेट्रो, इस तारीख को होगा ट्रायल इस गणेश मंदिर में उल्टा स्वास्तिक बनाने से पूरी होती है हर मुराद इंदौर में 22 तारीख को सड़कों पर नहीं दिखेंगी CARS, वजह जान आप कहेंगे, वाह! दोस्ती हो तो ऐसी! एक मुलाकात के लिए बनवा दिया आलीशान महल, जानें आखिर आपको क्यों नहीं मिलेगा ‘लाडली बहना आवास’ योजना का लाभ? मां बनी IAS टीना डाबी, कलेक्टरी के बाद संभालेंगी ये बड़ी जिम्मेदारी बारिश ने मचाया ऐसा तांडव कि जलमग्न हो गया भगवान शिव का ये प्रसिद्ध मंदिर MP का वो संत जो 33 महीने से केवल नर्मदा नदी के जल के सहारे जीवित, जानें MP में बारिश ने मचाई आफत, इन जगहों पर बाढ़ जैसे हालात लाडलियों को 450 रुपये में कैसे मिलेगा गैस सिलेंडर, ये है पूरी प्रक्रिया