mptak
Search Icon

JEE Advanced 2024: इंदौर के वेद लाहोटी की JEE एडवांस में आई AIR-1, नंबर इतने कि जानकर रह जाएंगे हैरान

एमपी तक

ADVERTISEMENT

JEE Advanced में इंदौर के वेद लाहोटी ने किया टॉप
social share
google news

JEE Advanced 2024 Result: देश के सबसे प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम जेईई एडवांस 2024 का रिजल्ट रविवार को घोषित कर दिया गया है. इसमें इंदौर के वेद लाहोटी ने सबसे बड़ा स्कोर हासिल कर देशभर में टॉप किया है. वेद ने जेईई-एडवांस्ड में 360 में से 352 अंक लाकर आल इंडिया रैंक-1 हासिल की है. इसके साथ ही वेद ने अब तक के सबसे ज्यादा हासिल किए जाने वाले अंकों का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है. 

जानकारी के मुताबिक वेद ने जेईई-एडवांस्ड में आल इंडिया रैंक-1 प्राप्त की है तथा 360 में से 352 अंक प्राप्त करके अब तक के सर्वाधिक प्राप्तांकों के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं.  JEE एडवांस टॉप करने वाले वेद लाहोटी इंदौर के रहने वाले हैं. 

पूरे डे प्लान के साथ की पढ़ाई- मां

वेद की मां बतातीं हैं कि "उनके बेटे को फास्ट फूड बिल्कुल भी पसंद नहीं है. दिनचर्या के अनुकूल वह पढ़ाई किया करता था. कोचिंग के बाद घर आकर पढ़ाई करना. इसके साथ ही रात 11:00 बजे सोना और वापस समय पर उठ जाना. ये वेद कि दिनचर्या का महत्पवूर्ण हिस्सा थे. इसी दिनचर्या के कारण ही आज उसको इतनी बड़ी सफलता मिली है."

वेद के JEE Advanced रिजल्ट की मार्कशीट

ये भी पढ़ें: MPPSC Topper: उज्जैन के भाई-बहन ने किया कमाल! साथ खेले, साथ की MPPSC की तैयारी, अब बन गए डिप्टी कलेक्टर

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

वेद ने नाना के घर पर रहकर की पढ़ाई

आपको बता दें वेद ने अपने नाना के घर पर रहकर पढ़ाई की है. यही कारण है नाती की सफलता के बाद नाना खुशी से झूम रहे हैं.  नाती की सफलता पर  उनका कहना था कि "प्रभु इच्छा और मेहनत लगन में यह टॉप रैंक दी है. इससे हमारी खुशी का ठिकाना नहीं है. हम बहुत खुश हैं. कि बेटे ने जिस उम्मीद से तैयारी की थी. उसमें से भी आगे निकला और देश में नंबर वन आईआईटी में टॉप वन में जगह बनाई.

टॉप करने के बाद क्या बोले वेद? 

आईआईटी में टॉप करने वाले वेद लाहोटी का कहना था कि मैं शुरू से ही नाना के पास रहा हूं. नाना का गाइडेंस मिला है. और कोटा में एजुकेशन के मामले को लेकर माहौल अच्छा है. जो बच्चे डिसएप्वॉइंटेड हो जाते हैं. रैंक नहीं मिलती अच्छे मार्क्स नहीं आते हैं. उन्हें गलत कदम नही उठाना चाहिए. बल्कि दोबारा अच्छे से मेहनत करना चाहिए.

ADVERTISEMENT

वेद आगे कहते हैं कि "जिंदगी बहुत लंबी है. इसको अच्छे से मेहनत करके शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहिए. जरूरी नहीं कि आपको एक ही बार में सफलता मिल जाए. हमें मेहनत करते रहना चाहिए. कोटा में एजुकेशन का माहौल अच्छा है. इंदौर और एमपी में मुझे ऐसा माहौल नहीं लगा है. इसके चलते ही मैंने कोटा को चुना था. अपने ननिहाल में मेरे माता-पिता और नाना के साथ रहकर मैंने पढ़ाई की है. आज इस पायदान को पाकर बहुत खुश हूं.

ADVERTISEMENT

 ये भी पढ़ें: MPPSC-2021 Result: पहले मां को खोया, फिर सिर से उठा पिता का साया...गांव में पले प्रियंक कैसे बने डिप्टी कलेक्टर?

इनपुट- कोटा से भवानी सिंह की रिपोर्ट...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT