mptak
Search Icon

MP: मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, खंडवा-झिरन्या हाईवे बंद, सड़क से घरों तक पानी ही पानी

एमपी तक

ADVERTISEMENT

mp_weather_update
mp_weather_update
social share
google news

न्यूज़ हाइलाइट्स

point

मध्य प्रदेश में बारिश का कहर देखने को मिल रहा है

point

सीहोर और खरगोन में भारी बारिश के कारण पानी ही पानी नजर आ रहा है

point

मौसम विभाग मुताबिक अभी कुछ और दिन बारिश से राहत नहीं मिलेगी

MP Weather Update: मध्य प्रदेश में इस समय बारिश का कहर देखने को मिल रहा है. प्रदेश के अधितकर इलाकों में जल-भराव की खबरें सामने आ रही हैं. कई जगहों पर नदी- नाले उफान पर हैं. मौसम विभाग ने बीती शाम 30 से अधिक जिलों में अलर्ट जारी किया था. जिसका असर आज पूरे प्रदेश में देखने को मिला है. खरगोन जिले के पहाड़ी आंचल में बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं, यहां खंडवा-झिरन्या मार्ग बंद हो चुका है तो वहीं सीहोर जिले में भारी बारिश के कारण जगह-जगह जलभराव देखने को मिल रहा है. वहीं ग्वालियर में भारी बारिश की वजह से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है.

अचानक हुई बारिश में फंसे लोग

जानकारी के मुताबिक खरगोन जिला मुख्यालय से करीब 70 किलोमीटर दूर झिरन्या थाना क्षेत्र के खंडवा-झिरन्या मार्ग पर स्थित रूपारेल नदी पहाड़ी क्षेत्र में बारिश होने से उफान पर आ गई. अचानक नदी के उफान पर आने  बड़ी संख्या में यात्री बसें और वाहनों की कतार लग गई. झिरन्या के कई किसानों के खेत होने से नदी के दूसरे छोर पर फंस गए. सैकड़ों लोग नदी से बाढ़ का पानी उतरने का रास्ता देखते रहे. दोनों छोर से आवागमन ठप हो गया. बसों पर सवार महिलाये और बच्चे इस दौरान परेशान नजर आए. 

जान जोखिम में डालकर बचाई बकरियों की जान

सीहोर में भारी बारिश का कहर

सीहोर सहित जिले भर में झमाझम बारिश हो रही है. इस बारिश से लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिली है. कुछ ही देर की झमाझम बारिश ने सड़कों पर पानी ही पानी कर दिया. जिले के आष्टा में मुख्य सड़क पर घुटने तक पानी भर गया. यहां सड़क पर 2 से 3 फीट पानी होने से निकलने वाले लोग परेशान होते हुए नजर आए. पानी में बाइकों के पहिए आधे आधे डूब गए. स्कूल जाने वाले बच्चों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ा है. 

बारिश के कारण जलभराव जैसे हालात

जान-जोखिम में डालकर बचाई बकरियों की जान

ग्वालियर के देहात बेहट थाना क्षेत्र के गांव बेहट में रहने वाले मायाराम गुर्जर की 50 बकरियां झिलमिल नदी के दूसरी तरफ चारा चरने के लिए गई हुई थी. लेकिन, इन दौरान भारी बारिश के चलते झिलमिल नदी उफान पर चलने लगी. जिसके वजह से 50 बकरियां नदी के दूसरी तरफ फंस गई. जब इस बात की खबर मायाराम और गांव के ग्रामीणों को लगी तो वे देर न करते हुए रस्सी लेकर मौके पर पहुंचे. उन्होंने अपनी खुद की जान जोखिम में डालकर इन बकरियों को रेस्क्यू किया. घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. एसडीओपी संतोष पटेल ने ग्रामीणों की जमकर तारीफ की है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ये भी पढ़ें: MP Weather: मध्य प्रदेश में बारिश का कहर, कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात, इन जिलों में IMD ने जारी किया अलर्ट

अभी बारिश से नहीं मिलने वाली राहत

ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में लगातार तीन दिन से बारिश जारी है, इससे लोगों की परेशानी बढ़ी हुई है. ग्वालियर-चंबल में लगातार चौथे दिन भी भारी बारिश का अलर्ट है. मौसम विभाग भोपाल के अनुसार प्रदेश में इस समय दो वेदर सिस्टम एक्टिव हैं. जिसके कारण भारी बारिश का कहर देखने को मिल रहा है. मौसम विभाग की माने अभी प्रदेश में 11 जुलाई तक भारी बारिश का दौर जारी रहने वाला है.  मौसम विभाग ने सोमवार को राजधानी भोपाल, ग्वालियर चंबल समेत प्रदेश के 30 से अधिक जिलों में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है. 

ADVERTISEMENT

देखें ये खास वीडियो...

इनपुट- सीहोर से नवेद जाफरी, खरगोन से उमेश रेवलिया, ग्वालियर से हेमंत शर्मा

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें: MP Weather Today: ग्वालियर-चंबल में बारिश का कहर, जून-जुलाई का कोटा 6 दिन में ही पूरा, 14 जिलों में भारी बारिश का यलो अलर्ट!

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT