mptak
Search Icon

VIDEO: कृषि मंत्री बनते ही शिवराज के गृह जिले में सामने आई ये बड़ी चुनौती, CM मोहन कैसे निपटेंगे?

नवेद जाफरी

ADVERTISEMENT

mptak
social share
google news

VIDEO: मध्य प्रदेश के सीहोर के आष्टा क्षेत्र में लगने वाले देश के सबसे बड़े एथेन क्रैकर प्लांट का किसानों ने जबरदस्त तरीके से विlरोध कर दिया है. मंगलवार को जमीन सीमांकन करने के लिए पहुंचे अमले के सामने मौजूद किसानों ने विरोध कर दिया, एक किसान और महिला ने खुदकुशी करने की कोशिश भी की. पेड़ पर बंधी रस्सी से खुदकुशी करने का प्रयास किया, जिन्हें वहां मौजूद किसानों ने पकड़ लिया. वहीं अब इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.

CM ने दी स्वीकृति मगर किसान नहीं माने

दरअसल, हाल ही में मोहन यादव ने सीहोर में एथेन क्रैकर प्लांट लगाने के बाद से ही सीहोर के आष्टा क्षेत्र के किसानों ने क्रैकर प्लांट के लिए जमीन देने से इनकार कर दिया है. राजस्व अमला खानदौरापुर भंवरी जमीन सीमांकन और निरीक्षण करने के लिए पहुंचा तो मौजूद किसानों ने इसका विरोध करने लगे. इस वजह से सीमांकन के लिए पहुंचे अफसरों को बैरंग ही वापस लौटना पड़ा. 

यह होगा देश का सबसे बड़ा एथन क्रैक प्लांट

जानकारी के मुताबिक, जिले के आष्टा क्षेत्र में देश के सबसे बड़े एथेन क्रैकर प्लांट को बीते दिनों मोहन यादव सरकार ने स्वीकृति दे दी है. गेल इंडिया लिमिटेड यहां प्लांट लगाएगी बताया गया है, कि करीब 60000 करोड़ से निर्मित होने वाली यह परियोजना देश की सबसे एथेन क्रैकर परियोजना होगी. लेकिन इसका विरोध शुरू हो गया है किसानों ने जमीन अधिग्रहण को लेकर विरोध शुरू कर दिया है। मंगलवार को राजस्व अमला खानदौरापुर भंवरी जमीन सीमांकन और निरीक्षण करने के लिए पहुंचा तो मौजूद किसानों ने इसका विरोध कर दिया. 

ये भी पढ़े - पहले साथ पढ़े, अब देश की सुरक्षा की जिम्मेदारी, क्या है New Army Chief और नौसेना प्रमुख का रीवा कनेक्शन?

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

किसान और महिला ने की खुदखुशी की कोशिश

विरोध के समय किसान और महिला ने खुदकुशी करने की कोशिश भी की. पेड़ पर बंधी रस्सी से खुदकुशी करने का प्रयास किया, जिन्हें मौजूद किसानों ने पकड़ लिया. इसके बाद अमले को वापस लौटना पड़ा. किसानों ने जमीन अधिग्रहण को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. किसानों के द्वारा किए जा रहे विरोध और खुदकुशी करने के प्रयास का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.अमले के सामने किसानों ने गेल कंपनी वापस जाओ के नारे लगाए. साथ ही जमीन नही दिए जाने को लेकर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा. मामले को लेकर एमपी तक को फोन पर जानकारी देते हुए कलेक्टर प्रवीण सिंह ने कहा कि जानकारी संज्ञान में आई है. किसानों से बातचीत करके समस्या को सुलझाएंगे.

ये भी पढ़े - MP News: CM मोहन यादव ने MP के बेरोजगारों के लिए कर दिया बड़ा ऐलान, खुलेंगी बंपर भर्तियां

ADVERTISEMENT

देखे ये पूरा विडियो - 

 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT