अपना मध्यप्रदेश मुख्य खबरें

बरगी बांध से बिना सूचना छोड़ा पानी, रायसेन में नर्मदा किनारे लगाई गईं दो दर्जन दुकानें बही

RAISEN NEWS: जबलपुर स्थित बरगी बांध से पानी छोड़ने के कारण रायसेन जिले में स्थित नर्मदा किनारे की दो दर्जन दुकानें बह गईं. लोगों के आरोप हैं कि जल संसाधन विभाग ने बिना किसी पूर्व सूचना के डैम से पानी छोड़ दिया और उसकी वजह से नर्मदा नदी के किनारे दुकानें लगाकर गुजर-बसर करने वाले […]
bargi dam Jabalpur Raisen Narmadi River mp news Raisen News
तस्वीर: राजेश रजक, एमपी तक

RAISEN NEWS: जबलपुर स्थित बरगी बांध से पानी छोड़ने के कारण रायसेन जिले में स्थित नर्मदा किनारे की दो दर्जन दुकानें बह गईं. लोगों के आरोप हैं कि जल संसाधन विभाग ने बिना किसी पूर्व सूचना के डैम से पानी छोड़ दिया और उसकी वजह से नर्मदा नदी के किनारे दुकानें लगाकर गुजर-बसर करने वाले लोगों की रोजी-रोटी छिन गई. मौके पर रायसेन जिले का प्रशासन पहुंच गया है. प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार किसी तरह की कोई जन हानि नहीं हुई है लेकिन नदी किनारे कच्ची दुकानें लगाने वालों का सामान बह गया है और दुकानें डूब गई हैं. प्रशासन अब नुकसान का आकलन कर रहा है.

प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि जबलपुर स्थित बरगी बांध से पानी छोड़ने के कारण रायसेन में नर्मदा का स्तर अचानक से बढ़ गया. तेजी से पानी बढ़ता देख सभी दुकानदार दुकान छोड़कर घाट की तरफ भागे और अपनी जान बचाई. लेकिन जलस्तर इतनी तेजी से बढ़ा था कि दुकानदारों को अपना सामान निकालने का भी वक्त नहीं मिला.

दुकानदारों के आरोप हैं कि यह घटना कोई पहली बार नहीं हुई है. इससे पूर्व भी तीन से चार बार ऐसी घटना हो चुकी है लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों ने इसके लिए कोई ठोस इंतजाम अब तक नहीं किए. जबलपुर और रायसेन प्रशासन अब एक दूसरे पर जिम्मेदारी डालने का काम कर रहे हैं. जबकि दोनों ही जिलों के प्रशासनिक अधिकारियों को इसके लिए पूर्व से सूचना देने और कम्यूनिकेशन की व्यवस्था करना चाहिए थी.

महाशिवरात्रि पर देखें उमा-महेश का अद्भुत श्रृंगार, महाकाल का निराला रूप देखने के लिए उमड़ रहे लाखों श्रद्धालु

रायसेन में इन घाटों का बढ़ा जल स्तर
रायसेन जिले के बोरास ,चोरास , अन्घोरा केल्कछ ,केतोघान , अलीगंज सहित दर्जनों ग्राम के घाटो में जल स्तर बढ गया हैं. इसकी वजह से दुकानें पानी में डूबी दिखाई दे रही हैं. दुकानदारों को घाटों को छोड़कर बाहर आना पड़ा है. रायसेन प्रशासन का कहना है कि दुकानदारों को घाट के अंदर जाकर दुकानें नहीं लगाना चाहिए. वहीं जबलपुर प्रशासन और जल संसाधन विभाग के अधिकारियों से तालमेल की बात पर रायसेन प्रशासन अपना पल्ला झाड़ रहा है.

लोगों के आरोप, सर्वे तक नहीं कर रहा प्रशासन
लोगों का कहना है कि जबलपुर से तीन से चार बार महीने में इस तरह से पानी छोड़ा जाता है, जिसकी पूर्व सूचना नहीं दी जाती है. स्थानीय तहसीलदार और एसडीएम को इस मामले में सर्वे करना चाहिए, ताकि दुकानदारों को डूबत क्षेत्र से दूर किया जा सके लेकिन आज तक कोई भी सर्वे स्थानीय प्रशासन द्वारा नहीं किया गया है.

मध्य प्रदेश की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए Mp Tak पर क्लिक करें
अनूठी है इस IAS कपल की Love Story, सृष्टि देशमुख की पति के साथ खूबसूरत तस्वीरें विकास दिव्यकीर्ति सर के फेवरेट हैं ये नेता, सुनकर रह जाएंगे दंग! बागेश्वर धाम में क्यों लगा सितारों का जमघट? ये है वजह छप्पड़ फाड़ पैसे कमाते हैं इस मूलांक वाले लोग, करोड़पति बनने का होता है योग बहन को खेत में सरसों काटते देख खुद को नहीं रोक पाए DSP साहब, सादगी देख चौंक गए लोग नूरी खान कौन हैं, जिन्होंने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले दिया कांग्रेस को बड़ा झटका? समय और मुहूर्त के साथ ये सब कुछ भी बताएगी वैदिक घड़ी, जानें क्यों हो रही चर्चा? मन ही मन प्रेम करती हैं इन तारीखों में जन्मीं लड़कियां, जल्दी नहीं खोलती हैं दिल के राज बेहद इमोशनल होते हैं इन तारीखों को जन्में लोग, रिश्ते भी लंबे नहीं चलते, जानें गोवा-मालदीव सबको फेल कर देंगे MP के ये 2 आईलैंड, मार्च में घूमने के लिए बेस्ट है ये जगह किसान की बेटी में ऐसा क्या पाया कि बहू बना लाए CM मोहन यादव, कौन है वो साधारण सी लड़की? बेहद खूबसूरत होती हैं इस मूलांक वाली लड़कियां, सबके दिलों पर करती हैं राज ये है विकास दिव्यकीर्ति सर की फेवरेट फिल्म, नाम जानकर रह जाएंगे दंग IAS बहन की शादी में खूबसूरत लुक में नजर आईं टीना डाबी, देखें तस्वीरें बेहद कंजूस होते हैं इन तारीखों को जन्में लोग, पाई-पाई का रखते हैं हिसाब इस मूलांक वाली लड़कियों की किस्मत में होती है बेवफाई, प्यार में मिलता है धोखा जन्नत जैसे खूबसूरत हैं MP ये 2 गांव, कश्मीर-गोवा से होती है तुलना घमंडी और जिद्दी होती हैं इन तारीखों को जन्मीं लड़कियां ससुराल में राज करती हैं इन तारीखों में जन्मीं लड़कियां, मिलता है ढेर सारा प्यार प्यार से ज्यादा पैसे पर मरते हैं इस मूलांक वाले लोग, फायदे के लिए बनाते हैं रिश्ते