mptak
Search Icon

पत्नी से अवैध संबंध के शक में ली ग्रामीण की जान, ऐसे रची थी हत्या की साजिश

लोकेश चौरसिया

ADVERTISEMENT

Murder, Chhatarpur, MP News, Madhya Pradesh, Crime
Murder, Chhatarpur, MP News, Madhya Pradesh, Crime
social share
google news

Murder Mystery: छतरपुर जिले में सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा हुआ है. 25 मार्च को बमीठा थाना क्षेत्र के खिरयानी गांव में मिले शव की मर्डर मिस्ट्री का खुलासा पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस में किया. पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि पत्नी से अवैध संबंध के शक में उसने युवक की हत्या की है. पुलिस ने आरोपी के पास से हत्या में इस्तेमाल होने वाले लाठी-डंडे भी बरामद किए हैं. उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

बमीठा थाना क्षेत्र के ग्राम खरयानी के जंगल मे 25 मार्च की रात को पुलिस को एक शव मिला था. जिसकी पहचान राजेश विश्वकर्मा के रूप में हुई थी. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराते हुए जांच पड़ताल शुरू की तो पता चला कि राजेश विश्वकर्मा की लाठी-डंडों से यह हत्या की गई है. कड़ी से कड़ी को जोड़ते हुए पुलिस आरोपी तक पहुंच गई. हत्या का आरोपी मृतक के गांव का ही निवासी निकला.

ये भी पढ़ें: इंदौर बावड़ी हादसे के विरोध में यूथ कांग्रेस का प्रदर्शन, कफन लेकर सांसद का किया घेराव

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

पत्नी से अवैध संबंध का था शक
शक होने पर आरोपी बाला को गिरफ्तार किया गया. पुलिस की पूछताछ के दौरान आरोपी ने खुलासा किया कि उसने पत्नी से अवैध संबंध के शक में युवक की जान ले ली. दो सालों से राजेश विश्वकर्मा उसके घर पर आया-जाया करता था. आरोपी ने बताया कि वह उसकी पत्नी से बातचीत किया करता था. इसी के चलते उसे शक था कि राजेश के उसकी पत्नी से अवैध संबंध हैं. इसी शक के चलते उसने राजेश की हत्या करने का मन बना लिया.

ऐसे रची हत्या की साजिश
जब राजेश किशनगढ़ से बाजार करके लौट रहा था, तभी आरोपी बाला ने गांव के पास जंगल मे उस पर लाठी से हमला कर दिया. इसके बाद वह मोटसाइकिल से गिर गया. आरोपी ने कई बार उस पर लाठी से वार करते हुए उसे मौत के घाट उतार दिया. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. उसे न्यायालय में पेश किया गया. आरोपी के पास से हत्या में इस्तेमाल करने वाली लाठी-डंडे को भी बरामद किया है. इस हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाना काफी मुश्किल था, लेकिन पुलिस की टीम की लगातार कोशिश और बारीकी से जांच-पड़ताल के चलते एक हफ्ते के भीतर ही इसका खुलासा हो गया.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT