मुख्य खबरें राजनीति

इमरती देवी का फिर छलका उपचुनाव में हार का दर्द, बोलीं- चुनाव मैं नहीं, जनता हारी; मैं तो सेल्फ स्टार्ट हूं…

Gwalior News: विधानसभा उपचुनाव में हार को लेकर पूर्व मंत्री और सिंधिया समर्थक इमरती देवी का ​​​​​​दर्द ​एकबार फिर छलका है. विकास यात्रा में शामिल होने डबरा पहुंची इमरती देवी ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि ‘चुनाव मैं नहीं, बल्कि जनता हारी है. मेरे पास आज भी ग्वालियर और भोपाल में सरकारी बंगला […]
Updated At: Feb 24, 2023 21:50 PM
imratidevi, politicsnews, mpnews, gwalior
फोटो: सर्वेश पुरोहित

Gwalior News: विधानसभा उपचुनाव में हार को लेकर पूर्व मंत्री और सिंधिया समर्थक इमरती देवी का ​​​​​​दर्द ​एकबार फिर छलका है. विकास यात्रा में शामिल होने डबरा पहुंची इमरती देवी ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि ‘चुनाव मैं नहीं, बल्कि जनता हारी है. मेरे पास आज भी ग्वालियर और भोपाल में सरकारी बंगला और गाड़ी है, मंत्री का दर्जा भी है, लेकिन डबरा का विकास रुक गया है. मैं तो सेल्फ स्टार्ट हूं.

जानकारी के मुताबिक डबरा में विकास यात्रा में मुख्य अथिति के रूप में लघु उद्योग निगम की अध्यक्ष इमरती देवी पहुंची हुई थी. कार्यक्रम में अपने संबोधन में कहा कि चुनाव मैं नहीं, बल्कि जनता हारी है. मेरे पास आज भी ग्वालियर और भोपाल में सरकारी बंगला और गाड़ी है, मंत्री का दर्जा भी है, लेकिन डबरा का विकास रुक गया है. मैं तो सेल्फ स्टार्ट हूं. विकास यात्रा डबरा के कमेटी हॉल से प्रारंभ हुई और पिछोर रोड होती हुई चीनोर रोड पर पहुंची. यात्रा के दौरान हितग्राहियों को राशन पात्रता पर्ची, लाडली लक्ष्मी योजना प्रमाण पत्र व आवास के प्रमाण पत्र भी बांटे गए.

मेरे पास आज भी ग्वालियर और भोपाल में सरकारी बंगला, तुम्हें क्या मिला?
विकास यात्रा में मुख्य अथिति के रुप में लघु उद्योग निगम की अध्यक्ष इमरती देवी पहुंची हुई थी. कार्यक्रम में अपने संबोधन में कहा कि चुनाव मैं तो जीती हूं. हारे तो आप लोग हो, इसलिए हारे हो, क्योंकि हम जीत जाते, तो डबरा का कितना विकास होता. लेकिन आज डबरा का विकास रुका हुआ है, इसलिए मैं खुद को हारा हुआ नहीं मानती. हारी तो डबरा की जनता है. ये तो मुख्यमंत्रीजी और सिंधिया जी का आशीर्वाद है कि मुझे तो आज भी तनख्वाह मिल रही है. मंत्री का दर्जा भी है. लघु उद्याेग विकास निगम में सरकारी गाड़ी भी है, बंगला भी है, सब सरकारी है मेरे पास. अफसर मेरे आगे-पीछे घूमते हैं.

इमरती ने कहा- प्रशासन भी मेरे साथ है. आपको क्या मिला? 3 करोड़ रुपए में आपको न डीपी मिला, न हैंडपंप मिले. मैं कुछ करने के लिए हमेशा आगे देखती हूं, पीछे नहीं देखती कि होगा क्या. जो करती हूं, अपने मन से कर देती हूं. आपकी इमरती न कभी किसी के बंधन में रही और न रहेगी. इमरती सेल्फ स्टार्ट है और सेल्फ स्टार्ट रहेगी.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस पर बरसे अमित शाह, बोले- पंजे की सरकार ने बंद कर दी थी जनजाति योजनाएं, शिवराज ने फिर शुरू कीं

मंच से अधिकारियों को लगाई फटकार
इमरती देवी ने खाद्य विभाग के अधिकारी को मंच से ही फटकार लगाई, उन्होंने कहा कि मुझे राशन की दुकानों की लगातार शिकायतें मिल रही हैं. यदि आज के बाद मुझे इस तरीके की शिकायतें मिलीं, तो आप सबके साथ गड़बड़ हो जाएगी. सेक्रेटरी तो छोड़ो मैं आपको लाइन पर लूंगी. समय रहते सुधर जाओ.

पहले भी छलकता रहा है उपचुनाव हार का दर्द
इमरती देवी 2018 का विधानसभा चुनाव ग्वालियर की डबरा सीट से कांग्रेस के टिकट पर लड़ी और जीती भी थीं. साल 2020 में वह ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ बीजेपी में शामिल हो गई थीं. सिंधिया के साथ बीजेपी में गए 22 विधायकों ने एक साथ इस्तीफे दिए थे. इसके बाद  28 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव हुए थे. इस बार इमरती देवी बीजेपी के टिकट पर डबरा से दोबारा चुनाव लड़ने उतरीं. कांग्रेस ने उनके समधी सुरेश राजे को अपना प्रत्याशी बनाया. इस चुनाव में कांग्रेस के सुरेश राजे से इमरती देवी 7568 वोटों चुनाव हार गई. इस हार के बाद इमरती देवी का दर्द कई बार छलकता रहता है.

कई बार उन्होंने खुद इसे मंच से बयां किया है. पहले भी कई मौकों पर वह अपनी हार के लिए पार्टी में भीतरघात को जिम्मेदार बता चुकी हैं.

ये भी पढ़ें: शिवपुरी में विकास यात्रा में नहीं पहुंचे विधायक तो नाराज जनता ने पोस्टरों में लगा दी आग, जानें पूरा मामला

मध्य प्रदेश की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए Mp Tak पर क्लिक करें
शर्मिला टैगोर की हसीन अदाओं पर क्लीन बोल्ड हो गए थे क्रिकेटर टाइगर पटौदी खजुराहो में ऐसा क्या हुआ कि बन गया वर्ल्ड रिकॉर्ड? देखिए खास तस्वीरें पढ़ने में सबसे ज्यादा होशियार होते हैं इस मूलांक वाले लोग, बनते हैं बड़े अफसर जब लगे कि जिंदगी में अब कुछ नहीं बचा, तब दिव्यकीर्ति सर का ये सूत्र पार लगा देगा नैया गुस्से में आगबबूला हो जाते हैं इस तारीख को जन्में लोग, पलभर में तोड़ देते हैं रिश्ते खूबसूरती में IAS टीना डाबी को टक्कर देती हैं MPPSC टॉपर प्रिया पाठक, देखें तस्वीरें इस तारीख को जन्म लेने वाली लड़कियों में होता है IAS बनने का जन्मजात गुण वसंत में खिल जाती है ‘सतपुड़ा की रानी’, इस हिल स्टेशन की खूबसूरती देख रह जाएंगे हैरान बला की खूबसूरत होती हैं इस तारीख में जन्मीं लड़कियां, ऐश्वर्या का नाम भी है इस लिस्ट में बॉलीवुड की कौन सी एक्ट्रेस है विकास दिव्यकीर्ति की पहली पसंद? जान लीजिए करोड़ों में खेलते हैं इस तारीख को जन्में लोग, टाटा-अंबानी भी इस लिस्ट में पति पर जान लुटाती हैं इस तारीख को जन्मीं लड़कियां, बनती हैं बेस्ट वाइफ झूठ बोलने से कतराती हैं इन तारीखों पर जन्मी लड़कियां, दिखावटी लोगों से करती हैं नफरत प्यार में अनलकी होते हैं इस तारीख को जन्में लोग, होती हैं 2 शादियां IAS सृष्टि ने पति नागार्जुन संग ऐसे बिताईं छुट्टियां, देखें तस्वीरें सर्दियों में घूमने के लिए बेस्ट हैं MP के ये 5 टूरिस्ट प्लेस, निहारते रह जाएंगे खूबसूरती इस तारीख को जन्म लेने वाली लड़कियां खोल देती हैं पति की किस्मत का ताला महिलाओं में 30 की उम्र के बाद आता है ये बड़ा बदलाव, जिसे जान लें पुरुष टीवी के ‘कृष्ण’ के घर में मची महाभारत, IAS पत्नी के खिलाफ की ये शिकायत ‘चांदी का चम्मच’ लेकर पैदा होते हैं इन तारीखों में जन्में लोग