mptak
Search Icon

MP News: लोकसभा चुनाव के परिणामों के बाद कई मंत्रियों का कटेगा पत्ता? BJP ने कर ली ये बड़ी तैयारी

एमपी तक

ADVERTISEMENT

चुनाव बाद कटेगा मई मंत्रियों का पत्ता
चुनाव बाद कटेगा मई मंत्रियों का पत्ता
social share
google news

MP Loksabha Chunav 2024: मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव के दौरान कई दिग्गज नेताओं को सीट वार और कलस्टर वार जिम्मेदारी दी गई थी. इस दौरान कई दिग्गज नेताओं अपनी सीट को जिताने के लिए पूरी ताकत झोंक दी थी. बीते दिन आए एग्जिट पोल के अनुसार मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को एक बार 2019 जैसा परिणाम देखने को मिल सकता है. लेकिन रिज्लट से पहले भारतीय जनता पार्टी ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है. आइये जानते हैं कैसी तैयारी..?

रिजल्ट से पहले बीजेपी की बड़ी तैयारी?

एमपी में रिजल्ट जब आएगा तो दिख जाएगा कि बीजेपी का प्रदर्शन कैसा रहा लेकिन बीजेपी ने अभी से देखना शुरू कर दिया कि प्रदर्शन की जिम्मेदारी जिनको दी गई थी. उनका प्रदर्शन कैसा रहा है. सूत्रों की माने तो रिजल्ट के बाद भारतीय जनता पार्टी की एक बैठक होगी. ऐसा कहा जा रहा है कि इस बैठक से पहले विधायकों में टेंसन का माहौल बना हुआ है. टेंसन की वजह भी साफ है. चुनाव के पहले बीजेपी ने एक रोडमैप तैयार किया था. उस रोडमैप के मुताबिक रिजल्ट के बाद एक बड़ी मीटिंग होगी. जिसमें कई बड़े फैसले लिए जा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: MP Loksabha Election: एग्जिट पोल के बाद भी जीत को लेकर आश्वस्त दिग्विजय सिंह? लेकिन काउंटिंग से पहले सता रहा ये बड़ा डर

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

चुनाव के बाद बीजेपी की बड़ी बैठक

चुनाव परिणामों के सामने आने के बाद बीजेपी एक बड़ी मीटिंग आयेाजित करने जा रही है. इस मीटिंग में लोकसभा प्रभारी, लोकसभा संयोजक के साथ-साथ साीएम मोहन यादव, प्रदेश अध्यक्ष और संगठन महामंत्री के साथ ही कई पदाधिकारी शामिल होंगे. ऐसा माना जा रहा है कि इस बैठक में प्रदेश के सभी बीजेपी विधायकों को भी बुलाया जा सकता है. 

कई मंत्रियों की कुर्सी पर खतरा

दरअसल सूत्रों की माने तो चुनाव के दौरान जिन क्षेत्रों में मतदान प्रतिशत घटा है. वहां मंत्रियों और विधाकयों को मेहनत करने की बात कही गइ्र थी. ताकि बाकि के चरणों में मतदान प्रतिशत सुधर सके. यही कारण है कि जिन मंत्रियों के क्षेत्र में मतदान प्रतिशत कम रहा है, उनकी छुट्टी को लेकर आलाकमान विचार कर सकता है. सूत्र बताते हैं कि चुनाव के बाद कई मंत्रियों की कुर्सी जा सकती है. इसके साथ ही कई नए चेहरों को मौका मिल सकता है. यानि जिन क्षेत्रों में वोटिंग प्रतिशत अच्छा रहा है वहां के विधायकों को मौका दिया जा सकता है.

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें: Republic-PMARQ & Matrize Exit Poll Results 2024: इस एग्जिट पोल में MP में कांग्रेस की बताई ऐसी हालत, बीजेपी का दिया ये अनुमान

ADVERTISEMENT

विधायकों का होगा रिपोर्ट कार्ड तैयार

इस मीटिंग मे विधायकों के क्षेत्र में विधानसभा चुनाव के दौरान के वोट प्रतिशत से मिलान कराया जाएगा. जिसके बाद तय किया जाएगा कि प्रदर्शन खराब था या फिर सही.. दूसरी ओर इस बार का ध्यान भी रखा जाएगा कि अगर बीजेपी का प्रत्याशी चुनाव जीतता है तो विधानसभा क्षेत्रवार कितना अंतर रहा है. अगर हार होती है तो निश्चित तोर पर विधायक पर गाज गिरनी संभव है. दोनों ही अंतरों को स्पष्टता से देखने के बाद रिपेार्ट कार्ड तैयार किया जाएगा. 

पदाधिकारियों के फीडबैक की तैयारी में बीजेपी

इस बैठक में अकेले विधायक- मंत्री नहीं इसके अलावा जो पदाधिकारी खास तौर पर जिन्हें लोकसभा चुनाव का प्रभार दिया गया था. कई बड़े चेहरों को लोकसभा चुनाव का संयोजक बनाया गया था. अब चैक किया जाएगा पार्टी ने कैसा प्रदर्शन किया जिन्हें प्रभार दिया गया था. 

सूत्र बता रहे हैं कि एक फीडबैक वो भी लिया जाएगा. कि जिन्होंने काम जमीनी स्तर पर पार्टी के लिए किया या उन्होंने क्षेत्र में जाकर केवल औपचारिकता की है, या फिर मेहनत की है. वो तमाम चीजों का आकलन किया जाएगा. दरअसल पूरी मीटिंग और मीटिंग के बाद होने वाला एक्सन चुनाव परिणाम ही तय करेंगे. 

ये भी पढ़ें: एग्जिट पोल के नतीजों के बाद गुना से राव उदय सिंह फुल कॉन्फिडेंस में! क्या दिग्गज बचा पाएंगे अपनी साख?

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT