mptak
Search Icon

MP Election 2023: इन महिला नेताओं के आगे चित्त हो गए भाजपा-कांग्रेस के कद्दावर नेता, जानें कौन हैं वो

एमपी तक

ADVERTISEMENT

women leaders who defeated BJP-Congress strong leaders, Madhya Pradesh Election, Madhya Pradesh election result, Madhya Pradesh election result live, Madhya Pradesh election counting, Madhya Pradesh election result live, Madhya Pradesh election result,
women leaders who defeated BJP-Congress strong leaders, Madhya Pradesh Election, Madhya Pradesh election result, Madhya Pradesh election result live, Madhya Pradesh election counting, Madhya Pradesh election result live, Madhya Pradesh election result,
social share
google news

MP Election 2023: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों (Vidhansabha Chunav) का मुकाबला बेहद दिलचस्प रहा, नतीजे जारी हो चुके हैं. मध्य प्रदेश की 230 सीटों पर कुल 27 महिलाएं चुनी गई हैं, जिनमें 21 भारतीय जनता पार्टी से हैं, 6 कांग्रेस से हैं. इसके साथ ही 2018 के विधानसभा चुनाव में जीतने वाली महिलाओं की संख्या 20 थी, जो 2023 में बढ़कर 26 हो गई है. इन महिला नेताओं (Women Leaders) ने न सिर्फ जीत हासिल की, बल्कि बड़े अंतर से राजनीति के मंझे हुए खिलाड़ियों को हराया. आइए जानते हैं कि कौन हैं वे महिला नेता, जिनके आगे भाजपा और कांग्रेस के कद्दावर नेताओं को हार माननी पड़ी.

लक्ष्मण सिंह को हराने वाली युवा विधायक

भाजपा की प्रियंका मीना ने कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह को चाचौड़ा से 61,000 से अधिक वोटों के अंतर से हराया. लक्ष्मण सिंह पांच बार लोकसभा सांसद और तीन बार विधायक भी रह चुके हैं. प्रियंका मीना मध्य प्रदेश में 31 साल की सबसे कम उम्र की विधायक भी हैं.

मंत्री गौरीशंकर बिसेन को हराया

कांग्रेस नेत्री अनुभा मुंजारे ने भाजपा के कद्दावर नेता और मंत्री गौरीशंकर बिसेन को हराया. उन्होंने 108770 वोट हासिल किए और 29195 वोटों से गौरीशंकर बिसेन को मात दी. बता दें कि इस सीट पर बीजेपी ने ऐन वक्त पर प्रत्याशी बदला था. पहले गौरीशंकर बिसेन की बेटी मौसम बिसेन को टिकट दिया गया था, लेकिन चुनाव के लिए आवेदन गौरीशंकर बिसेन ने किया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

गौर ने सबसे ज्यादा अंतर से हराया

पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की बहू और भाजपा की कृष्णा गौर महिलाओं में सबसे बड़े अंतर से जीतीं. उन्होंने गोविंदपुरा में कांग्रेस के रवींद्र साहू झूमरवाला को 1.06 लाख वोटों से हराया. गोविंदपुरा सीट से बाबूलाल गौर ने 1980 से 2013 के बीच लगातार आठ बार जीत हासिल की थी, इसे उनका गढ़ कहा जाता है.

ये भी पढ़ें: MP Election: राजनीति में फ्लॉप साबित हुईं एक्ट्रेस चाहत पांडे, जब्त हो गई जमानत

ADVERTISEMENT

कांग्रेस के दिग्गजों को भाजपा नेत्रियों ने चित्त कर दिया

भाजपा की मालिनी गौड़ ने इंदौर-4 सीट से 69,000 से अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की है. अन्य महिलाएं जो भाजपा के टिकट पर चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंची हैं, उनमें उषा ठाकुर (महू) और मीना सिंह (मानपुर), जो दोनों मंत्री थीं. इसके अलावा सीधी सांसद रीति पाठक (सीधी), पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस (बुरहानपुर) और पूर्व राज्यसभा सदस्य संपतिया उइके (मंडला) शामिल हैं.
मंजू दादू (नेपानगर), गंगाबाई उइके (घोड़ाडोंगरी), प्रतिमा बागरी (रायगांव), राधा सिंह (चित्रांगी), नीना वर्मा (धार), निर्मला भूरिया (पेटलावद), कंचन तनवे (खंडवा), छाया मोरे (पंधाना), गायत्री राजे पुआर (देवास), सरला बृजेंद्र रावत (सबलगढ़), ललिता यादव (छतरपुर) और उमा खटीक (हट्टा) ने भी भाजपा के टिकट पर चुनाव जीता और मध्य प्रदेश विधानसभा की सदस्य चुनी गई हैं.

ADVERTISEMENT

कांग्रेस की महिला नेताओं ने भाजपा के दिग्गजों की दी मात

कांग्रेस की अनुभा मुंजारे ने बालाघाट से मंत्री गौरीशंकर बिसेन को हराया. कांग्रेस की अन्य महिला नेता जो भाजपा के कद्दावर नेताओं को हराकर विधानसभा पहुंची हैं, उनमें सेना पटेल (जोबट), निर्मला सप्रे (बीना), चंदा सिंह गौड़ (खरगापुर), साध्वी रामसिया भारती (मल्हेरा) और झूमा सोलंकी (भीकनगांव) शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: ये हैं BJP के 10 बड़े बाहुबली, वोट हासिल करने में शिवराज को मेंदोला ने किया पीछे

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT