भोपाल में बोले शाह- बंटाधार और कमलनाथ दें जवाब, MP को कहां छोड़ा था, हमने उसे कहां पहुंचा दिया..

ADVERTISEMENT

Shivraj JI ke leadership me jitna kam hua hai uska jawab bantadhar aur kamalnath Ji ko dena chahiye ki unhone mp ko kaha chorha tha aur hamari sarkar me use kaha pahuncha diya hai
Shivraj JI ke leadership me jitna kam hua hai uska jawab bantadhar aur kamalnath Ji ko dena chahiye ki unhone mp ko kaha chorha tha aur hamari sarkar me use kaha pahuncha diya hai
social share
google news

MP Chunav 2023: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज मध्यप्रदेश के दौरे पर हैं. उन्होंने भोपाल में भाजपा सरकार के 20 साल (2003-2023) का रिपोर्ट कार्ड पेश किया है. इसमें डेढ़ साल कांग्रेस की सरकार (2018-20) रही थी. आयोजन कुशाभाऊ ठाकरे इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में हो रहा है. इस कार्यक्रम के दौरान अमित शाह ने कांग्रेस पर हमला करते हुये कहा, “53 साल का रिपोर्ट कार्ड रखे कांग्रेस उन्होंने क्या दियाा है इतने सालों में प्रदेश को” ये बताए. जनता ने त्रस्त होकर बंटाधार (दिग्विजय सिंह की सरकार) की सरकार को बाहर कर बीजेपी को मौका दिया. उनके भरोसे को आज भी बीजेपी साथ लेकर चल रही है. उनके साथ मंच पर सीएम शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा भी मौजूद हैं.

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि बीजेपी ने “हर दृष्टि से एक आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने का काम किया गया है. एमपी को देश के सबसे विकसित राज्य की श्रेणी में रखने और संपूर्ण आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में हम काम करेंगे. जिसे बंटाधार कहा जाता था, वो आज विकसित है. आज समृद्ध और खुशहाल राज्य की श्रेणी में एमपी शामिल है. भोपाल से लेकर प्रदेश की हर चौपाल तक खुशहाली पहुंचाने का काम भाजपा ने किया है. मैं विश्वास के साथ कह रहा हूं एक सीट की जो कमी है वो 2024 में एमपी की जनता पूरा कर दूंगी. शिवराज जी की लीडरशिप में जितना काम हुआ है उसका जवाब बंटाधार और कमलनाथ जी देना चाहिए कि उन्होंने एमपी को कहां छोड़ा था, और हमारी सरकार ने फिर उसे कहा पहुंचा दिया है.

कांग्रेस को अपने 53 सालाें का हिसाब देना चाहिए – शाह

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा “मध्यप्रदेश राज्य का गठन 1956 में हुआ था. तब विंध्य प्रदेश, भोपाल स्टेट में कांग्रेस का शासन था. 53 वर्ष कांग्रेस का शासन था. आज जो लोग दावा कर रहे हैं उन्हें सबसे पहले 53 साल के विकास कार्य की रिपोर्ट रखनी चाहिए. 1980 के दशक में आशीष बोस ने राजीव गांधी को एक पेपर प्रस्तुत किया था, जिसमें बीमारू शब्द का जिक्र किया था. कांग्रेस को अपने 53 सालों का हिसाब जनता के सामने रखना चाहिए.

राज्य सरकार के कार्यकाल पर दिखाई गई डोक्यूमेंट्री

अमित शाह के 18 सालों के कार्यकाल पर आधारित डोक्यूमेंट्री का प्रदर्शन किया गया. दिग्विजय सिंह के कार्यकाल 2001 और 2002 में सड़कों की बदहाली, बिजली कटौती और सिमी नेटवर्क और नक्सलवाद की समस्या और शिवराज सरकार के कार्यकाल और योजनाओं की उपलब्धि पर आधारित डोक्यूमेंट्री  दिखाई गई. इसमें सड़कों के नेटवर्क, सिमी और अमित शाह , लाडली लक्ष्मी, किसानों का फसल बीमा योजना समेत कर काम गिनाए गए हैं. इसके साथ ही केंद्र सरकार के नौ वर्षों के कार्यकाल पर भी आधारित डोक्यूमेंट्री  का प्रदर्शन किया गया. इसके साथ ही गरीब कल्याण महा अभियान थीम सॉन्ग ‘हम गरीब कल्याण के हित में मेहनत करने वाले हैं’ का VIDEO भी जारी हुआ।

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ये भी पढ़ें: MP चुनावी घमासान: BJP पेश करेगी 20 साल का रिपोर्ट कार्ड, कांग्रेस कर रही है पहली लिस्ट फाइनल

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT