mptak
Search Icon

लाडली बहना योजना को लेकर CM मोहन यादव का बड़ा इशारा! जानें क्या होगा अगली 10 तारीख को?

एमपी तक

ADVERTISEMENT

Ladli Behna Yojana: 21 year old married ladies started registration in the scheme
Ladli Behna Yojana: 21 year old married ladies started registration in the scheme
social share
google news

Ladli Behna Yojna: मध्य प्रदेश की लाडली बहना योजना लगातार सुर्खियों में है. पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने लाडली बहना योजना की शुरुआत की थी, अब मोहन यादव नए सीएम हैं. ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहे हैं कि क्या लाडली बहना योजना जारी रहेगी या नहीं? अब लाडली बहना योजना को लेकर सीएम मोहन यादव ने बड़ा इशारा दिया है.

मध्य प्रदेश चीफ मिनिस्टर के X हैंडल से एक पोस्ट शेयर की गई है. इस पोस्ट में लिखा है कि मोदी जी की गारंटी यानी गारंटी पूरी होने की गारंटी. साथ ही सशक्त नारी का संदेश देते हुए लिखा है कि पात्र बहनों को आर्थिक सहायता और पक्का आवास, 15 लाख महिलाओं को लखपति योजना में कौशल प्रशिक्षण देकर लखपति बनाएंगे, पात्र बहनों को 450 रुपये में गैस सिलेंडर मिलेगा.

ये भी पढ़ें:  लाड़ली बहना योजना पर CM मोहन यादव ने क्यों साधी है चुप्पी, अगली 10 तारीख को क्या होगा

 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

लाड़ली बहना योजना जारी रहेगी?

दरअसल, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने चुनावों के पहले ऐलान किया था कि लाड़ली बहनों को लखपति बनाया जाएगा. जिन गारंटियों की इस पोस्ट में बात की गई है, वे सभी लाडली बहना योजना के अंतर्गत आती हैं. इस पोस्ट से जाहिर होता है कि मोहन यादव सरकार में भी लाडली बहना योजना जारी रहेगी.

ADVERTISEMENT

लाडली बहना पर मोहन की चुप्पी

सीएम मोहन यादव को मुख्यमंत्री बनाने के बाद उनसे सवाल किया गया था कि क्या लाडली बहना योजना जारी रहेगी? इस पर जवाब देते हुए उन्होंने कहा था कि सभी जरूरी योजनाएं जारी रहेंगी. हालांकि नए सीएम मोहन यादव ने लाड़ली बहना योजना को लेकर कुछ नहीं बोला और एक रहस्यमयी चुप्पी लाड़ली बहना योजना को लेकर नए सीएम मोहन यादव ने ओढ़ ली है.

ADVERTISEMENT

पूर्व सीएम ने लॉन्च की योजना

आपको बता दें कि पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने लाड़ली बहना योजना स्कीम लॉन्च की थी, जिसमें उन्होंने वादा किया था कि सभी बहनों को हर महीने पहले 1000, फिर 1250 रुपए और उसके बाद यह राशि बढ़ाकर 3 हजार रुपए प्रति महीना करने का वादा किया गया था. इससे पहले ही मोहन यादव को प्रदेश की कमान सौंप दी गई और शिवराज सिंह चौहान को इस्तीफा देना पड़ा.

ये भी पढ़ें: CM मोहन यादव आज जाएंगे दिल्ली, मध्यप्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार को लेकर सामने आया बड़ा अपडेट

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT