mptak
Search Icon

CM मोहन यादव दिल्ली लेकर आ रहे 20 विधायकों की सूची? जेपी नड्‌डा और अमित शाह के सामने रखेंगे

एमपी तक

ADVERTISEMENT

CM Mohan Yadav, Mohan Yadav, Madhya Pradesh Cabinet, Madhya Pradesh MLA, CM Mohan Yadav, JP Nadda, Amit Shah, MP BJP in Delhi
CM Mohan Yadav, Mohan Yadav, Madhya Pradesh Cabinet, Madhya Pradesh MLA, CM Mohan Yadav, JP Nadda, Amit Shah, MP BJP in Delhi
social share
google news

CM Mohan Yadav: सीएम मोहन यादव कुछ ही देर में दिल्ली पहुंच जाएंगे. सीएम मोहन यादव दिल्ली आते ही सीधे जेपी नड्‌डा और अमित शाह से मुलाकात करेंगे. लेकिन सबसे ज्यादा जिस बात का जिक्र भोपाल से लेकर दिल्ली तक हो रहा है, वह बात है कि सीएम मोहन यादव की कैबिनेट में कौन-कौन मंत्री बनेगा. सूत्र बता रहे हैं कि पहली सूची में तकरीबन 20 से 22 विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है और 20 चिन्हित विधायकों की एक सूची सीएम मोहन यादव अपने साथ लेकर दिल्ली आ रहे हैं.

सूत्रों के अनुसार सीएम मोहन यादव दिल्ली आते ही सीधे बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मुलाकात करेंगे और उसके बाद वे गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात करने पहुंचेंगे. इस मुलाकात में तय किया जाएगा कि मोहन यादव की कैबिनेट में किन विधायकों को मंत्री बनने का मौका दिया जा सकता है.

उम्मीद जताई जा रही है कि 22 दिसंबर को यानी कल मंत्रीमंडल विस्तार का कार्यक्रम हो सकता है और नए मंत्रियों को शपथ दिलाई जा सकती है. क्योंकि उसके बाद सभी विधायकों और सांसदों को पीएम मोदी द्वारा दी गई संकल्प यात्रा में लगना होगा. बीजेपी लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुट चुकी है और इसकी शुरूआत संकल्प यात्रा के जरिए हो रही है, जिसमें सभी बीजेपी विधायक और सांसद जनता के बीच जाएंगे और केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में बात करेंगे.

कहां फंसा है पेंच?

बीजेपी आलाकमान के सामने असली चुनौती है अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव. इसके मद्देनज़र ही मंत्रिमंडल गठन होना है. माना जा रहा है कि बीजेपी इसके मद्देनज़र हर लोकसभा से एक विधायक को मंत्री बना सकती है. दूसरी चुनौती है उन नेताओं की है जिन्हे सांसद से हटाकर चुनाव लड़ाया गया और वो जीत गए. उनमे से एक नरेंद्र तोमर तो विधानसभा अध्यक्ष बन गए लेकिन प्रह्लाद पटेल, राकेश सिंह, रीति पाठक और कैलाश विजयवर्गीय पर अभी सस्पेंस बरकरार है. इसके अलावा पुराने कद्दावर चेहरों को भी एडजस्ट करना एक बड़ी चुनौती है जो लगातार चुनाव जीतते आए हैं. इनमे से कई पूर्व में भी मंत्री रह चुके हैं. कई विधायक चौथी या पांचवी बार जीत कर आए हैं ऐसे में उन्हें नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

सिंधिया समर्थकों का भी रखना है ध्यान!

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों को भी भाजपा नज़रअंदाज़ नहीं कर पाएगी क्योंकि वह भी चुनाव जीत कर आये हैं और उनके साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया का भी नाम जुड़ा है लिहाज़ा उन्हें भी मंत्रिमंडल में लाना है नहीं तो सिंधिया के नाराज़ होने का डर भी है. ऐसे में माना जा रहा है कि दिल्ली में होने वाली बैठक में सभी समीकरणों पर विचार करने के बाद आलकमान मंत्रियों के नाम तय कर देगा और इस हफ्ते के अंत तक मंत्रियों की शपथ हो जाएगी.

सांसदों के साथ सीएम मोहन यादव करेंगे रात्रि भोज

देर शाम सीएम मोहन यादव मध्यप्रदेश के सभी बीजेपी सांसदों के साथ रात्रि भोज करेंगे. बताया जा रहा है कि इस रात्रि भोज में सीएम के साथ न सिर्फ सांसदों का भोज होगा, बल्कि आगामी मंत्रीमंडल और संकल्प यात्रा को लेकर भी समन्वय बनाने को लेकर भी विस्तृत चर्चा होगी.फिलहाल सभी की नजर उन विधायकों की सूची पर है, जिसे लेकर सीएम मोहन यादव दिल्ली पहुंचने वाले हैं. वे दोपहर दो बजे तक दिल्ली पहुंच जाएंगे.

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें- लाड़ली बहना को लेकर शिवराज का ये बयान CM मोहन को कर देगा परेशान! कह डाली बड़ी बात

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT