कैलाश विजयवर्गीय के जिस बयान ने सियासी गलियारों में मचाई हलचल, उसे बता दिया मजाक, जानें

धर्मेंद्र कुमार शर्मा

ADVERTISEMENT

इंदौर सांसद पर अपने बयान से पलटे कैलाश विजयवर्गीय.
Kailash_Vijayvargiya
social share
google news

Indore News: अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में रहने वाले मंत्री कैलाश विजयवर्गीय (Kailash vijayvargiya) के एक बयान ने सियासी गलियारों में हल चल मचा दी है. इंदौर के मौजूदा सांसद शंकर लालवानी (shankar lalvani) का टिकट कटने का दावा करने के बाद मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने अपने बयान को मजाक बताया है. विजयवर्गीय ने अपने बयान पर सफाई दी है. 

शंकर लालवानी का टिकट कट गया?

दरअसल,  कैलाश विजयवर्गीय इंदौर में एक कार्यक्रम में बोल रहे थे. मंच पर भाषण देते हुए उन्होंने कहा कि "उड़ते-उड़ते इस तरह की खबर मिली है कि सांसद शंकर लालवानी का टिकट इसलिए कट गया है, क्योंकि पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व चाहता है कि इस बार किसी महिला को टिकट देना है और सुरक्षित सीट पर देना है". 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

मैं मजाक कर रहा था- कैलाश विजयवर्गीय

कैलाश विजयवर्गीय के इस बयान के बाद इंदौर के मौजूदा सांसद शंकर लालवानी के टिकट कटने की चर्चाएं तेज होने लगीं. अब अपने बयान पर सफाई देते हुए कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, "महिलाओं का कार्यक्रम मैं मजाक कर रहा था कि कौन कौन लड़ना चाहता है. मोदी जी ने 35 प्रतिशत आरक्षण कर दिया है. तो सब महिलाओं ने हाथ खड़े कर दिए. तो वो पूरी तरह से मजाक था. टिकट तय नहीं हुआ है तो शंकर जी भी अभी उम्मीदवार हैं."

ADVERTISEMENT

वहीं राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर बयान देते हुए कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि "राहुल गांधी  भारतीय जनता पार्टी के लिए बड़े शुभांकर हैं. वह जितना घूमेंगे भारतीय जनता पार्टी की उतनी बड़ी जीत होगी."

इंदौर से होगी महिला उम्मीदवार? 

ADVERTISEMENT

कैलाश विजयवर्गीय ने कार्यक्रम के दौरान इंदौर सांसद शंकर लालवानी का टिकट कटने की बात करते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री चाहते हैं कि इस बार इंदौर लोकसभा सीट से किसी महिला को चुनाव लड़ाया जाए. इसके बाद कैलाश विजयवर्गीय कार्यक्रम में मौजूद महिलाओं से पूछते हैं कि आपमें से कौन-कौन चुनाव लड़ेगा तो सभी महिलाएं चुनाव लड़ने की इच्छा जता देगी हैं.
 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT