mptak
Search Icon

एक मंच पर जुटे कांग्रेसी दिग्गज, अरुण यादव के परिवार को लेकर कमलनाथ ने सुनाए रोचक किस्से

उमेश रेवलिया

ADVERTISEMENT

mp congress Khargone News Arun Yadav Kamal Nath
mp congress Khargone News Arun Yadav Kamal Nath
social share
google news

mp congress: मध्यप्रदेश में कांग्रेस पार्टी के अंदर सभी दिग्गज मतभेद भुलाकर एकजुट दिखने की कोशिशों में लगे हुए हैं. इन्हीं कोशिशों के तहत खरगोन में स्व. सुभाष यादव की मूर्ति अनावरण के कार्यक्रम में सभी दिग्गज एक मंच पर आए. स्व. सुभाष यादव प्रदेश के पूर्व उप मुख्यमंत्री रह चुके हैं और पूर्व पीसीसी चीफ अरुण यादव के पिता हैं. अरुण यादव ने ही कांग्रेस के अंदर कमलनाथ की मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवारी पर सवाल खड़े किए थे लेकिन खरगोन में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में दोनों के बीच राजनीतिक दूरियां मिटती हुई दिखाई दी. वर्तमान पीसीसी चीफ कमलनाथ ने भी इस मौके पर अरुण यादव के पिता और परिवार के साथ उनके सालों पुराने रिश्तों को याद करते हुए कई रोचक किस्से भी सुनाए.

कमलनाथ ने कहा कि वह और स्व. सुभाष यादव एक साथ पहली बार सातवी लोकसभा के लिए चुने गए तो स्व. सुभाष यादव ही थे जो उनको लोकसभा की नियमावली समझाते थे. उनको नियमों की जानकारी ही नहीं थी. कृषि को लेकर समझ भी कम थी लेकिन स्व. सुभाष यादव ने ही उनको हर क्षेत्र में ज्ञान और मार्गदर्शन दिया.

कमलनाथ ने अरुण यादव की तरफ इशारा करते हुए कहा कि वे सालों पहले स्व. सुभाष यादव की की पत्नी से मिले थे और उसके बाद अब जाकर वे उनसे मिल रहे हैं. यादव परिवार के साथ अपने संबंधाें को याद दिलाते हुए कमलनाथ ने कहा कि वे अरुण यादव की शादी और उनकी बहन की शादी में शामिल हुए थे. कमलनाथ ने अरुण यादव की तारीफ करते हुए कि देश में कई सुगर मिल घाटे में चल रही हैं और किसानों का भुगतान नहीं कर रही हैं लेकिन अरुण यादव के क्षेत्र की सुगर मिल देश के सामने उदाहरण है कि पिछले दो दशक से एक बार भी किसानों का भुगतान नहीं रोका गया. कमलनाथ ने अरुण यादव से कहा कि आप यूपी में जाकर वहां की सरकार को बताएं कि कैसे सुगर मिल चलती हैं और कैसे उनसे जुड़े किसानों को भुगतान किया जाता है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

एक दूसरे पर सवाल खड़े करने वाले दिग्गज सब एक साथ आए
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, कांग्रेस के मप्र प्रभारी जेपी अग्रवाल, पूर्व केंद्रीय मंत्री और आदिवासी नेता कांतिलाल भूरिया, राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा, मप्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह सहित कई दिग्गज खरगोन में एक मंच पर एक साथ आए और एक दूसरे के साथ एकजुटता दिखाने की कोशिश की. विधानसभा चुनाव नजदीक देख कांग्रेस के सभी दिग्गज एकजुटता दिखाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं.

ये भी पढ़ेंBJP में आने के बाद भी नहीं बदले प्रीतम लोधी के तेवर! बागेश्वर धाम, शराबबंदी और विवादों पर खुलकर बोले

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT