mptak
Search Icon

MP News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिंधिया को दिया सबसे बड़ा टास्क? पीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट की कमान संभालेंगे सिंधिया

ADVERTISEMENT

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया पदभार ग्रहण
ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया पदभार ग्रहण
social share
google news

Modi Cabinet 3.0: सोमवार को मोदी कैबिनेट की पहली बैठक के बाद मंत्रियों के विभागों का ऐलान कर दिया गया. जिसमें एमपी के मंत्रियों को बड़े विभागों की जिम्मेदारी दी गई है. मध्य प्रदेश के छह सांसदों को केंद्र में मंत्री बनाया गया है. पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान को कृषि एवं ग्रामीण विकास विभाग का मंत्री बनाया गया है. वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया को दूर संचार मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है. सिर्फ यही नहीं सिंधिया को एक और मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है. जिस विभाग को पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट भी माना जाता है. आइये जानते हैं उसके बारे में विस्तार से...

सिंधिया को मिला पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट

कैबिनेट 3.0 में मंत्रियों के विभागों का बंटवारा कर दिया गया है. एमपी से भी छह मंत्रियों को विभाग बांटे गए हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया को संचार के अलावा एक और महत्त्वपूर्ण मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है. और वह मंत्रालय है. पूर्व क्षेत्र विकास मंत्रालय इस विभाग को पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट भी माना जाता है.

केंद्रीय बजट 2022 में पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए पहली बार पीएम डिवाइन स्कीम की घोषणा की गई थी. पीएम डिवाइन स्कीम यानी प्राइम मिनिस्टर्स डेवलपमेंट इनिशिएटिव फॉर नॉर्थ ईस्ट रीजन स्कीम के तहत पूर्वोत्तर क्षेत्र का विकास भी अब सिंध्या की जिम्मेदारी होगी. पीएम डिवाइन स्कीम को केंद्रीय बजट 2022 में 100% केंद्रीय वित्त पोषण के साथ एक नई केंद्रीय क्षेत्र की योजना के रूप में घोषित किया गया था.  जिसमें सात परियोजनाओं की प्रारंभिक सूची और 1500 करोड़ रुपए का प्रारंभिक आवंटन किया गया था. पिछली बार इस मंत्रालय की जिम्मेदारी बीजेपी नेता जी किशन रेड्डी के पास थी. पर अब यह अहम मंत्रालय सिंधिया को सौंपा गया है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ये भी पढ़ें: MP Political News: सिंधिया की राज्यसभा सीट पर किेसे मिलेगा मौका? इन नामों पर चर्चा हुई तेज! रेस में ये नाम सबसे आगे

कार्यभार संभालने के बाद क्या बोले सिंधिया?

बुधवार को सिंधिया ने इस मंत्रालय का कार्यभार संभाला कार्यभार संभालने के बाद सिंधिया ने कहा "आज मेरे भाई और मेरे सहभागी सुकांता मजूमदार साहब के साथ इस विभाग का प्रभार आज ग्रहण किया है. सर्वप्रथम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को हम दोनों दिल से धन्यवाद अर्पित करते हैं. कि इस अति महत्त्वपूर्ण विभाग की जिम्मेदारी हम दोनों के कंधों पर उन्होंने दी है." यह मंत्रालय इसलिए भी अहम हो जाता है. कि पिछले एक साल से मणिपुर हिंसा से ग्रस्त है. ऐसे में क्षेत्र में विकास एक बड़ी चुनौती हो सकता है."

ADVERTISEMENT

सिंधिया के पिछले कार्यकाल का ट्रैक रिकॉर्ड देखें तो वह काफी शानदार रहा है. नागरिक उड्डयन विभाग में उनका रिपोर्ट कार्ड शानदार था. उन्होंने इस विभाग में आने वाली चुनौतियों को कम कर लोगों को कई तरह की सुविधाएं दी हैं. तो वहीं सिंधिया को संचार मंत्रालय की भी जिम्मेदारी मिली है. 

ADVERTISEMENT

मनमोहन सरकार में भी सिंधिया रहे मंत्री

आपको यह बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया मनमोहन सिंह की सरकार में संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के राज्यमंत्री के रूप में काम कर चुके हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने इस विभाग में भी कई चुनौतियों को दूर करने की जिम्मेदारी है. सिंधिया के सामने सबसे बड़ी चुनौती ट्राई को एक्टिव करना होगा. फिलहाल तो पीएम मोदी ने उहे दो अहम मंत्रालयों की जिम्मेदारी दी है. और उन पर विश्वास जताया है. अब देखना होगा कि इस कार्यकाल में वह इन मंत्रालयों की जिम्मेदारी कितना बखूबी निभाते हैं.

ये भी पढ़ें: Jyotiraditya Scindia: ज्योतिरादित्य सिंधिया का चला जादू, मोदी कैबिनेट में मंत्री की शपथ लेकर पिता माधवराव को छोड़ दिया पीछे

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT