mptak
Search Icon

MP Politics: उपचुनाव से पहले जीतू पटवारी ने लिया बड़ा फैसला! क्या कांग्रेस में फिर देखने मिल सकती है टूट-फूट?

रवीशपाल सिंह

ADVERTISEMENT

State President Jitu Patwari
State President Jitu Patwari
social share
google news

MP Election 2024: मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव हो गए लोकसभा चुनाव संपन्न हो गए हैं. लेकिन, अब एक और चुनाव होना बाकी है. यह चुनाव है अमरवाड़ा विधानसभा सीट पर उपचुनाव इस सीट को लेकर के अब कांग्रेस में भी हलचल शुरू हो गई है. आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी पहले ही यहां पर कमलेश शाह को अपना प्रत्याशी घोषित कर चुकी है. वहीं कमलेश शाह जिन्होंने कांग्रेस पार्टी छोड़ कर के बीजेपी का दामन थामा था. इस्तीफा देने के बाद अब इस सीट पर उपचुनाव होना है.

10 जुलाई को अमरवाड़ा में मतदान होगा और 13 जुलाई को मतगणना होगी. इस बीच जहां एक तरफ बीजेपी ने अपने प्रत्याशी के नाम का ऐलान कर दिया तो वहीं कांग्रेस में अब इस बात को लेकर के शुरुआत हो गई है. कांग्रेस यहां से किसे प्रत्याशी बनाए इसको लेकर सुखदेव पासे जो कमलनाथ सरकार में मंत्री रह चुके हैं. उन्हें प्रभारी बनाया गया है. इस विधानसभा सीट पर वो वहां मौजूद कांग्रेस के स्थानीय संगठन से मिल रहे हैं. और उनकी रायशुमारी के बाद माना जा रहा है कि कांग्रेस यहां से नामों का ऐलान कर सकती है.

 

 

तस्वीर सामने आने के बाद बढ़ी हलचल

इस बीच बड़ी खबर यह है कि उपचुनाव को लेकर के हलचल कांग्रेस में क्यों बढ़ गई है. दरअसल उस तस्वीर के बाद हलचल बड़ी है. जहां पर जीतू पटवारी कांग्रेस के कुछ नेताओं से मिल रहे हैं. माना जा रहा है कि यह जो नेता हैं. ये जीतू पटवारी से मिलने आए हैं. अलग-अलग क्षेत्रों में जो उपचुनाव अब हो सकते हैं.

ये भी पढ़ें: दिल्ली पहुंचने के बाद भी नहीं बदला मामा का अंदाज, केंद्रीय मंत्री शिवराज ट्रेन से भोपाल रवाना, जगह-जगह स्वागत के लिए उमड़ा हुजूम

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

कई सीटों पर होना है उपचुनाव

विधानसभा के उपचुनाव को लेकर के देखना यह है कि जिस तरीके से अमर वाड़ा में चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है. वहां पर नतीजों के लिए
जो है 13 जुलाई का दिन मुकर्रर कर लिया गया है. ऐसे में देखना होगा कि बाकी सीटों पर उपचुनाव कब होता है. क्योंकि कई सारे वर्तमान विधायक हैं जो पार्टी छोड़ चुके हैं. उनमें से एक वर्तमान विधायक जो हैं वह रामनिवास रावत भी हैं.और इसीलिए माना जा रहा है कि उनकी सीट से कांग्रेस के जो संभावित चेहरे हैं. वह प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष से मिलकर के खुद को दावेदारी में आगे बता रहे हैं.

कांग्रेस में फिर हो सकती है टूट-फूट

इसके अलावा आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में अभी कई सीटों पर उपचुनाव के साथ-साथ हलचल इसलिए भी ज्यादा बढ़ सकती है. क्योंकि, मध्य प्रदेश में 29 की 29 लोकसभा सीटों पे बीजेपी ने जीत दर्ज की है. और माना जा रहा है कि विधानसभा चुनाव के बाद जिस तरीके से बड़े पैमाने पे कांग्रेस पार्टी में टूट-फूट हुई थी. वही टूट फूट अब लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद भी देखने को मिल सकती है.

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें: पूर्व CM शिवराज के क्षेत्र में रेत माफियाओं पर बड़ी कार्रवाई, दिग्विजय ने क्यों दी सीएम मोहन यादव को बधाई?

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT