mptak
Search Icon

MP Politics: पूर्व मंत्री इमरती देवी ने क्यों कही राजनीति छोड़ने की बात? पुलिस अधिकारियों पर साधा निशाना

सर्वेश पुरोहित

ADVERTISEMENT

इमरती देवी का वीडियो वायरल
social share
google news

MP News: मध्य प्रदेश सरकार की पूर्व मंत्री और सिंधिया समर्थक नेता इमरती देवी अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में बनी रहती हैं. कभी अपने ही किसी नेता पर दिए बयान के कारण तो कभी ऑडियो वायरल होने के कारण इमरती देवी सुर्खियां बटोरती रहती हैं. इस बार उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वे पुलिस और उसकी कार्रवाई पर निशाना साधती हुई नजर आ रही हैं. इस दौरान वहां पुलिस के आलाधिकारी भी मौजूद थे. 

इमरती ने पुलिस के सामने ही पुलिस पर उठा दिए सवाल

दरअसल इमरती देवी सिटी थाने में आयेाजिए नए कानून के जागरूकता कार्यक्रम में शामिल होने पहुंची थीं. जहां उन्होंने पुलिस कर्मियों को ही आड़े हाथों ले लिया. वे कहती हैं, थाने जाने पर पुलिस कहती है कि तहकीकात करेंगे, लेकिन हमारे थानों में तहकीकात ही नहीं होती है. हम जैसे लोग आ गए अगर तो फटाक से एफआईआर दर्ज हो जाती है. अगर वहीं कोई गरीब पहुंच गया तो कोई सुनवाई नहीं होती है. ना अस्पताल में उनकी सुनवाई होती है और ना ही थाने में. हम जैसी चाहें वैसी FIR तुरंत दर्ज करा लेते हैं. 

इमरती देवी ने क्यों कही राजनीति छोड़ने की बात

इमरती देवी ने आगे कहा "मैं कभी झूठ नहीं बोलती हूं. मेरे क्षेत्र में 06 थाने आते हैं. मैंने कभी किसी के लिए दरोगा ,टीआई, एसडीओपी को फोन नही किया.  अगर कोई बता दे कि किया है तो मैं राजनीति छोड़ दूंगी. इसलिए मेरा निवेदन है जो भी एफआईआर पुलिस दर्ज करे उसे न्याय के साथ करे. फरियादी के साथ न्याय किया जाए."

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

जज साहब से कह दी इमरदी देवी ने बड़ी बात

इमरती देवी अपने बयानों के लिए चर्चा में रहती हैं. यही कारण है कि बीते दिन उन्होंने इस कार्यक्रम में मौजूद सिविल न्यायालय के जज संजय गुप्ता के सामने ही थानों की हकीकत बयां कर दी. इमरती देवी ने कहा कि "इन थानों से बड़े-बड़े केसों में लोग फंसकर रह जाते हैं. पुलिस नहीं तो आप ही उन्हें न्याय दें. इसके साथ ही नए कानून को लेकर इमरती देवी मोदी जी को धन्यवाद दिया.

ये भी पढ़ें: कमलनाथ ने अमरवाड़ा उपचुनाव को बताया 'धोखे का चुनाव', मंच से कहा- इस धोखे का बदला लेना है...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT