mptak
Search Icon

करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष की गोली मारकर हत्या, मचा बवाल; CM शिवराज ने किया याद

एमपी तक

ADVERTISEMENT

Jaipur, Rajasthan, Sukhdev Singh Gogamedi, Sukhedev Gogamedi Rajput Karni Sena, Sukhdev Gogamedi murdered, Sukhdev Gogamedi shot, Rajasthan Crime News, Jaipur Crime News, ukhdev Singh Gogamedi Murder, Karni Sena Rajasthan President, Karni Sena president
Jaipur, Rajasthan, Sukhdev Singh Gogamedi, Sukhedev Gogamedi Rajput Karni Sena, Sukhdev Gogamedi murdered, Sukhdev Gogamedi shot, Rajasthan Crime News, Jaipur Crime News, ukhdev Singh Gogamedi Murder, Karni Sena Rajasthan President, Karni Sena president
social share
google news

MP News: राजस्थान में श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को घर में घुसकर ताबड़तोड़ 4 गोलियां मार दी गईं. घटना के बाद गोगामेड़ी को जयपुर के मेट्रो मास अस्पताल में ले जाया गया. जहां डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. इस हत्याकांड की जिम्मेदारी लॉरेंस गैंग (Lawrence Gang) से जुड़े कुख्यात गैंगस्टर रोहित गोदारा ने ली है. बताया जा रहा है कि रोहित गोदारा ने दुबई नंबर से कुछ महीने पहले धमकी भी दी थी. इस पूरे मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रद्धांजली दी है.

सीएम शिवराज ने सोशल मीडिया एक्स पर लिखा “राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सुखदेव सिंह गोगामेड़ी जी का जीवन समाज के कमजोर वर्ग की सेवा के लिए समर्पित रहा है. ऐसे व्यक्तित्व का असमय जाना अत्यंत दुखद है. अपराधियों को तत्काल गिरफ्तार कर उचित कार्रवाई हो, ऐसे अराजक तत्व किसी भी कीमत पर बचने नहीं चाहिए.

परमपिता परमात्मा से दिवंगत आत्मा की शांति तथा परिजनों को यह गहन दुःख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूँ. ।।ॐ शान्ति।।

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

हत्यारों ने सोशल मीडिया पर ली जिम्मेदारी

रोहित गोदारा नामक यूजर ने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए सोशल मीडिया पर लिखा, “राम-राम भाइयों, आज जो यह सुखदेव गोगामेड़ी की हत्या हुई है, वह हमने करवाई है. मैं आपको बताना चाहता हूं कि यह हमारे दुश्मनों के साथ मिलकर उनका सहयोग करता था. उनको पूर्ण रूप से मजबूत करने का काम करता था. और रही बात हमारे दुश्मनों की तो वह अपने घर की चौखट पर अपनी अर्थी तैयार रखें. उनसे भी जल्द मुलाकात होगी.” इस पूरे मामले के बाद राजस्थान के बॉर्डर पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें: सिंधिया समर्थक 7 मंत्री-विधायक हारे चुनाव? क्यों होने लगी इनके राजनीतिक भविष्य पर चर्चा

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT