mptak
Search Icon

नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने जनसभा में ऐसा क्या बोला, जिसकी हर तरफ हो रही है चर्चा

हेमंत शर्मा

ADVERTISEMENT

Leader of Opposition Dr. Govind Singh, Shivraj Singh Chauhan, Madhya Pradesh, Lahar Assembly, Shivraj Government Announcements, Bhopal, Madhya Pradesh Assembly Election, MP Assembly Election 2023,
Leader of Opposition Dr. Govind Singh, Shivraj Singh Chauhan, Madhya Pradesh, Lahar Assembly, Shivraj Government Announcements, Bhopal, Madhya Pradesh Assembly Election, MP Assembly Election 2023,
social share
google news

MP Election 2023: मध्यप्रदेश के मुरैना में पहुंची कांग्रेस की जन आक्रोश यात्रा के दौरान मुरैना की संसदीय सीट को लेकर नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह का दर्द छलक आया. नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस ने ऐसा आपके साथ क्या अन्याय किया है कि चुनाव आते ही आप हमारे पीछे कुल्हाड़ी लेकर पड़ जाते हो और फूल पर वोट दे देते हो.

नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह जनसभा में बोले कि आप 8 दिन में खाने का टेस्ट बदल लेते हो तो चुनाव में आप टेस्ट क्यों नहीं बदल रहे हो. अपने संबोधन के दौरान नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने मुरैना संसदीय सीट पर लगातार पिछले सात बार से जीत रही बीजेपी को लेकर भी जनता के बीच अपना दर्द बयां किया.

नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आखिर कांग्रेस ने आपके साथ ऐसा क्या अन्याय किया है कि चुनाव आते ही आप हमारे पीछे कुल्हाड़ी लेकर पड़ जाते हो और फूल को वोट देने लगते हो. 35 साल हो गए हैं लेकिन आपका टेस्ट नहीं बदला है. नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने कहा कि अगर आप अरहर की दाल 8 दिन लगातार खाते हो तो आप आठ दिन बाद खाने में भी टेस्ट बदल लेते हो लेकिन 35 साल से आपका चुनाव में टेस्ट नहीं बदला है.

नेता प्रतिपक्ष ने सुनाया कांग्रेस का 35 साल का दर्द

नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने मंच से सभी को संबोधित करते हुए अनुरोध किया कि आप विधानसभा के साथ लोकसभा में भी बदलाव करें और कांग्रेस के कैंडिडेट को जिताएं, क्योंकि अब 35 साल का वक्त बीत चुका है. हम आपको बता दें कि पिछले सात बार से मुरैना संसदीय सीट पर भाजपा काबिज रही है. साल 1996, साल 1998, साल 1999 और साल 2004 में बीजेपी के अशोक अर्गल लगातार चार बार मुरैना संसदीय सीट से सांसद रहे. इसके बाद साल 2009 में नरेंद्र सिंह तोमर, साल 2014 में अनूप मिश्रा और साल 2019 में एक बार फिर से नरेंद्र सिंह तोमर इस सीट से सांसद चुने गए. बीते सात बार से मुरैना सांसद बीजेपी पार्टी से ही बनते आ रहे हैं और यही दर्द नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह का जनसभा के दौरान झलक आया.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ये भी पढ़ेंExclusive: सिंधिया के कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आने से किसको हुआ फायदा? खुद ही कर दिया खुलासा

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT