mptak
Search Icon

विधानसभा चुनाव में जीत पर प्रहलाद पटेल ने बुलाई प्रेस कांफ्रेंस, जानें सीएम पद को लेकर क्या कहा

एमपी तक

ADVERTISEMENT

prahlad singh patel, mp news, madhya pradesh assembly election
prahlad singh patel, mp news, madhya pradesh assembly election
social share
google news

MP Election 2023: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे जारी हो चुके हैं. भारतीय जनता पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिला है, जिसके बाद सीएम के नाम को लेकर मंथन किया जा रहा है. इस बीच नरसिंहपुर से विधायक चुने गए केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल (Prahlad Patel) ने आज अपने दिल्ली निवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलायी. बता दें कि प्रहलाद पटेल भी सीएम पद की रेस में शामिल हैं. प्रेस वार्ता में मध्य प्रदेश में मिली जीत पर चर्चा की और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है.

प्रहलाद पटेल के इस्तीफे के बाद कयास लगाए जा रहे थे, कि मध्य प्रदेश के चुनावी मैदान में उतरने वाले कई सांसद और केंद्रीय मंत्री तोमर भी अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं. लेकिन ऐसा नहीं हुआ है.नरसिंहपुर विधानसभा प्रचंड जीत के बाद प्रहलाद पटेल ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा “मोदी की गारंटी है गरीब कल्याण को पूरा करना. नकारात्मक राजनीति और एजेंडा चलाने वालों को चुनौती देता हूं. मुझसे चर्चा करें! उन्होंने आगे कहा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की गरीब के लिए शुरू की गई कल्याणकारी योजनाओं ने काम किया है’, सीएम पद को लेकर प्रहलाद ने कहा कि पार्टी अभी मंथन कर रही है.

नरसिंपुर (Narsinghpur Seat) पर प्रहलाद पटेल के भाई जालम सिंह पटेल का कब्जा रहा है, लेकिन इस बार जालम पटेल का टिकट काटकर प्रहलाद पटेल को टिकट दिया गया था. वे दमोह से सांसद भी हैं और विधायक भी चुने गए हैं. वे वर्तमान में केंद्र में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और जल शक्ति राज्य मंत्री हैं. 2019 में वे पांचवी बार लोकसभा के सदस्य बने थे. बता दें कि प्रहलाद पटेल कई बार विवादों में रह चुके हैं. उन्होंने 2005 में भाजपा दी थी और उमा भारती के साथ भारतीय जनशक्ति पार्टी में शामिल हो गए थे. हालांकि तीन साल बाद 2009 में उन्होंने भाजपा वे वापसी की थी.

भाजपा ने कद्दावर नेताओं को चुनावी मैदान में उतारा था

भाजपा ने मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों में पार्टी के कई कद्दावर नेताओं को चुनावी मैदान में उतारा था, जिनमें तीन केंद्रीय मंत्रियों- कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते और केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल का नाम शामिल था. भाजपा ने तीन केंद्रीय मंत्रियों समेत सात सांसदों और कई बड़े चेहरों को चुनावी मैदान में उतारा था. बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, वरिष्ठ नेता और मंत्री गोपाल भार्गव को भी टिकट दिया गया था. माना जा रहा है कि पार्टी ने सीएम फेस पर सस्पेंस बनाने के लिए ये रणनीति अपनाई थी.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

सीएम फेस पर मंथन

सीएम फेस को लेकर बीजेपी में मंथन चल रहा है. सीएम शिवराज के अलावा कैलाश विजयवर्गीय, प्रहलाद पटेल, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, फग्गन सिंह कुलस्ते, गोपाल भार्गव, नरोत्तम मिश्रा, वीडी शर्मा और ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम सीएम पद की रेस में शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: BHOPAL: जीत के बाद मार्केट पहुंच गए CM शिवराज, परिवार के साथ खाए छोले-भटूरे

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT