मुख्य खबरें राजनीति

कांग्रेस को लेकर गुना में बोले सिंधिया, उनके लिए सरकार का मतलब था ‘केबीसी’!

Jyotiraditya Scindia guna news mp politics Kamal Nath mp congress
तस्वीर: विकास दीक्षित

MP POLITICAL NEWS: केंद्रीय नागरिक उड्‌डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया मंगलवार को गुना में थे. यहां पर एक जन सभा को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कमलनाथ और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘2018 में जब कांग्रेस की सरकार बनी और जिसके लिए हम सभी ने बहुत मेहनत की थी. वह सरकार लूट और भ्रष्टाचार के सिवाय और कुछ नहीं कर रही थी. कांग्रेस के लिए सरकार में आने का मतलब था केबीसी यानी कौन बनेगा करोड़पति में भाग लेना. इसलिए हम लोग उस सरकार से बाहर आए’.

सिंधिया ने दिग्विजय सिंह के मुख्यमंत्री काल यानी वर्ष 2003 का दौर लोगों को याद दिलाया और बोले कि उस दौर की सरकार को आप लोग याद कर लीजिए. कैसी सरकार थी वो?. बाकी समझदार के लिए इशारा काफी है. केंद्रीय मंत्री सिंधिया गुना में 400 केवी के बिजली सब स्टेशन का लोकार्पण करने आए थे. इस सब स्टेशन को 605 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किया गया है जाे गुना ,शिवपुरी,अशोकनगर,भिंड और मुरैना के 24 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को लाभ देगा.

गुना: ‘विकास’ की शिलापट्टिका पर सिर्फ मंत्रियों के नाम, सांसद का नाम गायब, BJP के अंदर ये कैसी दरार?

सिंधिया ने कहा कि केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार और मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की सरकार में डबल इंजन की सरकार चल रही है. लगातार प्रदेश का विकास हो रहा है. सिंधिया ने इस दौरान भाजपा सरकार की खूबियों और कई अन्य योजनाओं को लेकर जमकर तारीफ की. कार्यक्रम में मंच पर मौजूद ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ने कहा कि वे सौभाग्यशाली हैं कि उन्हें ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसा नेतृत्व मिला. यह बोलकर ऊर्जा मंत्री तोमर ने मंच पर ज्योतिरादित्य सिंधिया को दंडवत प्रणाम किया.

सांसद केपी यादव ने कार्यक्रम से बनाई दूरी
पूरे कार्यक्रम से गुना-शिवपुरी सांसद केपी यादव दूर रहे. सांसद केपी यादव की पिछले कुछ दिनों से लगातार सिंधिया समर्थक मंत्रियों और नेताओं से अनबन चल रही है. कार्यक्रम में सांसद की गैर मौजूदगी चर्चा का विषय रही. सांसद केपी यादव ने फोन पर बताया कि उनको आमंत्रण पत्र भी 20 फरवरी की रात फोन पर दिया. पहले से किसी ने कुछ बताया नहीं. वे दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य समिति की बैठक में थे. उल्लेखनीय है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया 2019 के लोकसभा चुनाव में गुना-शिवपुरी सीट से ही केपी यादव से करीब सवा लाख वोटों से चुनाव हार गए थे. तब सिंधिया कांग्रेस में थे और केपी यादव बीजेपी में. अब दोनों ही बीजेपी में आ गए हैं.

इंदौर की सड़कों पर युवक ने कार से किया स्टंट, पुलिस ने ऐसे पहुंचाया जेल… पिता की मौत के बाद बाबा महाकाल की शरण में उमेश यादव, मांगा आशीर्वाद… रवीना टंडन की बेटी की फिल्म की शूटिंग में ऐसा पड़ा विघ्न, जानें पेपर लीक कांड में पलट गए शिक्षा मंत्री, घटना के होने से ही किया इनकार एक गांव ऐसा, जहां 400 साल से पैदा नहीं हुए बच्चे, वजह हैरान करने वाली मौसम की मार ने निकाले किसानों के आंसू, प्रदेश भर में हालात खराब धीरेंद्र शास्त्री ने क्यों कहा- जिसे खुजली है आए, हम गोली दे देंगे..? लाडली बहना योजना का लाभ लेने के लिए क्या करना होगा? जानें पूरी डिटेल फसल तैयार, कटने को थी, पर किसानों के ‘सिर मुड़ाते ओले पड़ गए’ मां निर्मला देवी के 100वां जन्मोत्सव की धूम, 21 देशों के कलाकार जुटे, देखें MP में बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से बैठा किसानों का दिल, देखें तस्वीरें ‘बोट’ एंबुलेंस की शुरुआत, नर्मदा किनारे बसे लोगों को देगी जीवनदान रवीना टंडन ने भोजपुर मंदिर पहुंचकर पूजा-अर्चना की, देखें तस्वीरें साम्प्रदायिक सौहार्द की मिसाल हैं अमजद, खुद से पहले गाय को कराते हैं भोजन काॅन्स्टेबल ने डीएसपी के सामने दिखाए तेवर, वर्दी फाड़कर लगा चिल्लाने महू में युवती और युवक की मौत के बाद जमकर हुआ बवाल, देखें तस्वीरें बेमौसम बारिश ने बढ़ाई किसानों की मुश्किलें, देखें बर्बाद हुई फसलें मध्यप्रदेश में सीएम फेस कौन? BJP ने स्पष्ट किया, बताई ये रणनीति स्वाभिमान यात्रा: 16 दिन बाद भी सड़क पर घिसटने को मजबूर दिव्यांग OMG: एक पति का दो पत्नियों में हो गया बंटवारा, एमपी में हुई चौंकाने वाली घटना