अपना मध्यप्रदेश मुख्य खबरें

टाइगर स्टेट के बाद MP बनेगा चीता स्टेट, शिवराज बोले- 12 चीते आ रहे हैं, उनकी सुरक्षा…

Cheetah State: मध्य प्रदेश के श्योपुर के कूनो नेशनल पार्क में 12 और चीते लाए जा रहे हैं. सीएम शिवराज सिंह चौहान कल यानि शनिवार को इन्हें बाड़े में छोड़ेंगे. सीएम शिवराज ने कहा- हम अब तक टाइगर स्टेट हैं, लेकिन अब हम चीता स्टेट भी बनेंगे. पीएम नरेंद्र मोदी जी के आशीर्वाद से देश में […]
Updated At: Feb 17, 2023 13:16 PM
After Tiger State MP Cheetah State CM Shivraj 12 Cheetahs security MP News CM Shivraj singh Chauhan
कूनो नेशनल पार्क में अफ्रीका से 12 चीते और लाए जा रहे हैं. फोटो- खेमराज दुबे.

Cheetah State: मध्य प्रदेश के श्योपुर के कूनो नेशनल पार्क में 12 और चीते लाए जा रहे हैं. सीएम शिवराज सिंह चौहान कल यानि शनिवार को इन्हें बाड़े में छोड़ेंगे. सीएम शिवराज ने कहा- हम अब तक टाइगर स्टेट हैं, लेकिन अब हम चीता स्टेट भी बनेंगे. पीएम नरेंद्र मोदी जी के आशीर्वाद से देश में चीतों को पुनर्स्थापित किया जा रहा है. 18 फरवरी को कूनो में 12 चीते और आ रहे हैं. चीतों की रक्षा के लिए चीता मित्र बनाएं जा रहे हैं. चीतों की सुरक्षा के लिए आज मैं चीता प्रोजेक्ट की समीक्षा बैठक ले रहा हूं.

श्योपुर का कूनो नेशनल पार्क एक बार फिर यादगार बनने जा रहा है, वजह है साउथ अफ्रीका से 12 चीते और यहां पर पहुंच रहे हैं. चीतों की अगवानी के लिए पार्क प्रबंधन और प्रशासन ने सभी तैयारियां पूरी कर ली है. सीएम शिवराज सिंह चौहान चीतों को बाड़ो में रिलीज करेंगे. तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए कलेक्टर शिवम वर्मा, एसपी आलोक कुमार सिंह, डीएफओ प्रकाश वर्मा ने गुरुवार को दिन भर कूनो पालपुर में बिताया. देर शाम तक पांचों हेलीपैड तैयार हो चुके थे.  

कूनो नेशनल पार्क के डीएफओ प्रकाश कुमार वर्मा का कहना है कि 18 फरवरी को साउथ अफ्रीका से 12 चीते पार्क में आ रहे है इसके लिए बाडे से लेकर अन्य सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं.

कूनो पालपुर में छोड़ जाएंगे 12 चीते
18 फरवरी को सामान्य कार्यक्रम के दौरान ही कूनो पालपुर में 12 चीतों को छोड़ा जाएगा. मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान कूनो-पालपुर में ही चीते छोड़कर रवाना हो जाएंगे. सीएम शिवराज आम लोगों नहीं मिलेंगे. जबकि सितंबर 2021 में हुए कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सभा के लिए कराहल के पनवाड़ा तिराहे के पास दस हजार वर्गफीट का मंच बनाया गया था. डोम लगाकर एक लाख महिलाओं के बैठने की व्यवस्था की गई थी. लेकिन इस बार कार्यक्रम को सादा ही रखा गया है.

ये भी पढ़ें: चंदेरी में सड़क पर टहल रहा था तेंदुआ, लोगों को देख करने लगा लुकाछिपी; कैमरे में कैद हुई तस्वीरें

7929 किमी की यात्रा के बाद भारत की धरती पर आयेंगे अफ्रीकी 12 चीते
साउथ अफ्रीका से चीतों को लाने वाला विशेष विमान दक्षिण अफ्रीका पहुंच चुका है, ये विमान दक्षिण अफ्रीका के शहर जोहान्सबर्ग से 7 हजार 929 किलोमीटर का हवाई सफर तय करते हुए सीधे ग्वालियर लैंड करेगा. इसके बाद चीतों को सेना के 3 चॉपर से कूनो पार्क लाया जाएगा. दक्षिण अफ्रीका से पहली खेप में 12 चीते (5 नर और 7 मादा) कूनो पार्क पहुंच रहे हैं.

ड्राेन से होगी निगरानी
कूनो पार्क में 18 फरवरी को सुबह करीब 11 बजे से दोपहर 1 बजे के बीच चीतों को क्वारंटाइन बाड़ों में रीलीज किया जाएगा. साउथ अफ्रीका के चीतों को कम से कम 30 दिन के लिए बाड़ों में क्वारंटाइन किया जाएगा. कूनो नेशनल पार्क में 10 बाड़ों में सुरक्षा की दृष्टि से चीतों पर नजर रखने के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाए गए हैं, वहीं ड्रोन से भी चीतों की मााॅनिटरिंग की जायेगी. इसके अलावा आर्म्ड सिक्योरिटी गार्ड, वन कर्मी और डाॅग स्कवाॅड टीम भी लगातार तैनात रहेगी.

ये भी पढ़ें: कूनो नेशनल पार्क: 18 फरवरी को साउथ अफ्रीका के जोहान्सबर्ग से आएंगे 12 चीतें, सभी तैयारियां पूरी

चीतों के आने का संभावित कार्यक्रम

  • 17 फरवरी को रात 8 बजे दक्षिण अफ्रीका से विमान उड़ान भरेगा.
  • 18 फरवरी को सुबह 10 बजे राजमाता विजयाराजे विमानतल ग्वालियर में ग्लोबमास्टर लैंड करेगा.
  • 3 हेलीकॉप्टर से चीतों को कूनो नेशनल पार्क स्थित पालपुर बाड़े के पास लाया जाएगा.

बता दें कि एशियाई सिंहों को यहां नया घर देने के लिए 1998 में बने प्रोजेक्ट पर पहले ही करोड़ों रुपये का बजट खर्च कर तैयारियां हो चुकी थीं, जहां अब तक गुजरात के गिरिवन से बब्बर शेर तो नहीं लाए जा सके थे, लेकिन पिछले साल 17 सितंबर को इसी कूनो नेशनल पार्क में नामीबिया से लाए गए 8 चीतों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने हाथों से विशेष बाड़े में छोड़कर चीता प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी. नामीबिया से लाए गए सभी 8 चीतों ने यहां सर्वाइव कर प्रोजेक्ट के पहले चरण को सफल बना दिया है.

मध्य प्रदेश की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए Mp Tak पर क्लिक करें
शर्मिला टैगोर की हसीन अदाओं पर क्लीन बोल्ड हो गए थे क्रिकेटर टाइगर पटौदी खजुराहो में ऐसा क्या हुआ कि बन गया वर्ल्ड रिकॉर्ड? देखिए खास तस्वीरें पढ़ने में सबसे ज्यादा होशियार होते हैं इस मूलांक वाले लोग, बनते हैं बड़े अफसर जब लगे कि जिंदगी में अब कुछ नहीं बचा, तब दिव्यकीर्ति सर का ये सूत्र पार लगा देगा नैया गुस्से में आगबबूला हो जाते हैं इस तारीख को जन्में लोग, पलभर में तोड़ देते हैं रिश्ते खूबसूरती में IAS टीना डाबी को टक्कर देती हैं MPPSC टॉपर प्रिया पाठक, देखें तस्वीरें इस तारीख को जन्म लेने वाली लड़कियों में होता है IAS बनने का जन्मजात गुण वसंत में खिल जाती है ‘सतपुड़ा की रानी’, इस हिल स्टेशन की खूबसूरती देख रह जाएंगे हैरान बला की खूबसूरत होती हैं इस तारीख में जन्मीं लड़कियां, ऐश्वर्या का नाम भी है इस लिस्ट में बॉलीवुड की कौन सी एक्ट्रेस है विकास दिव्यकीर्ति की पहली पसंद? जान लीजिए करोड़ों में खेलते हैं इस तारीख को जन्में लोग, टाटा-अंबानी भी इस लिस्ट में पति पर जान लुटाती हैं इस तारीख को जन्मीं लड़कियां, बनती हैं बेस्ट वाइफ झूठ बोलने से कतराती हैं इन तारीखों पर जन्मी लड़कियां, दिखावटी लोगों से करती हैं नफरत प्यार में अनलकी होते हैं इस तारीख को जन्में लोग, होती हैं 2 शादियां IAS सृष्टि ने पति नागार्जुन संग ऐसे बिताईं छुट्टियां, देखें तस्वीरें सर्दियों में घूमने के लिए बेस्ट हैं MP के ये 5 टूरिस्ट प्लेस, निहारते रह जाएंगे खूबसूरती इस तारीख को जन्म लेने वाली लड़कियां खोल देती हैं पति की किस्मत का ताला महिलाओं में 30 की उम्र के बाद आता है ये बड़ा बदलाव, जिसे जान लें पुरुष टीवी के ‘कृष्ण’ के घर में मची महाभारत, IAS पत्नी के खिलाफ की ये शिकायत ‘चांदी का चम्मच’ लेकर पैदा होते हैं इन तारीखों में जन्में लोग