फोटो- जय नागड़ा

ओंकारेश्वर में बाढ़ से मची तबाही क्या प्रशासन की लापरवाही का नतीजा? जानें

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

मध्यप्रदेश में पिछले दिनों भारी ने जन जीवन को बुरी तरह प्रभावित किया है, कई इलाकों में जलभराव देखने को मिला है.

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

पूरे प्रदेश भर में सबसे ज्यादा तबाही वाला मंजर ओंकारेश्वर में देखने को मिला है.

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

यहां बाढ़ का पानी कम होने के बाद हर तरफ मायूसी और गुस्सा छाया हुआ है.

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

स्थानीय लोगों का कहना है कि वे पूरी तरह से बर्बाद हो चुके हैं. प्रशासन ने अपनी मनमर्जी चलाई है.

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

स्थानीय लोगों की माने तो ओंकारेश्वर में बाढ़ और तबाही का मंजर सीएम शिवराज सिंह चौहान को खुश करने के कारण आया है.

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

अगर प्रशासन ने सीएम शिवराज के बजाय आम जनता के बारे में सोचा होता तो ये हालात निर्मित नहीं होते. 

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

लोगों का आरोप है कि इस बाढ़ को रोका जा सकता था और करोड़ों रूपये के नुकशान को भी बचाया जा सकता था. 

Arrow

फोटो- जय नागड़ा

लेकिन ओंकारेश्वर के मदांता पर्वत पर शंकराचार्य की मूर्ति के अनावरण के लिए बनाए गए पुल को बचाना इंसानों की जान बचाने से ज्यादा जरूरी समझा गया. 

Arrow

बारिश ने मचाया ऐसा तांडव कि जलमग्न हो गया भगवान शिव का ये प्रसिद्ध मंदिर

अगली वेब स्टोरीज: