फोटो- एमपी तक

MP के इस टाइगर रिजर्व में हाथियों की क्यों हो रही आवभगत, जानें

Arrow

फोटो- एमपी तक

मंडला जिले कान्हा टाइगर रिज़र्व में इन दिनों हाथी रिजुविनेशन कैंप चल रहा है.  

Arrow

फोटो- एमपी तक

इस कैंप में पार्क के 18 में से 16 हाथी शामिल हैं. इस कैंप में हाथियों के ऊपर कोई बंधन नहीं होता. उनसे कोई काम भी नहीं लिया जाता.

Arrow

फोटो- एमपी तक

यह मौका होता है हाथियों के लिए पूरी आज़ादी और मन पसंद खाने की दावत का. उन्हें रिलैक्स करने के लिए मसाज भी दिया जाता है और वो भी आयुर्वेदिक तेलों का,

Arrow

फोटो- एमपी तक

हाथियों का पूरा मेडिकल चेकअप होता. ब्लड सैंपल लिए जाते हैं. उनके नाखून और दांतों को तराशा जाता है.  

Arrow

फोटो- एमपी तक

 इस कैंप में हाथियों को वो सब दिया जाता है जो उन्हें पसंद है. कैंप में हाथियों की सुबह की शुरुआत नहाने से होती है.  

Arrow

फोटो- एमपी तक

हाथियों के पैर में नीम तेल और सिर में अरण्डी तेल की मालिश की जाती है. मालिश के बाद खाने का समय हो जाता है. 

Arrow

फोटो- एमपी तक

खाने में हाथियों को गन्ना, केला, मक्का, आम, अनानास, नारियल परोसा जाता है. फिर उन्हें जंगल में छोड़ दिया जाता है.   

Arrow

फोटो- एमपी तक

दोपहर में हाथियों को जंगल से पुनः वापस लाकर और नहलाकर कैंप में लाया जाता है.  फिर इन्हें रोटी, गुड़, नारियल, पपीता खिलाकर दोबारा जंगल में छोड़ दिया जाता है.  

Arrow

MP का वो मंदिर जिसके सामने ट्रेन की स्पीड हो जाती स्लो! यहां भविष्य का होता है आभास

अगली वेब स्टोरीज: