रतलाम: महिला बॉडी बिल्डरों के प्रदर्शन पर कांग्रेस-बीजेपी के नेताओं में हुआ ‘राजनीतिक मल्ल युद्ध’! पुलिस को भी बनाया निशाना

विजय मीणा

ADVERTISEMENT

Ratlam, Ratlam News, Politics, Madhya Pradesh, Controversy
Ratlam, Ratlam News, Politics, Madhya Pradesh, Controversy
social share
google news

Ratlam News: शहर में आयोजित हुई 13 वी जूनियर बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता विवादों की भेंट चढ़ गई. कांग्रेस ने हनुमान जी की प्रतिमा के सामने महिला बॉडी बिल्डरों द्वारा किए गए प्रदर्शन पर आपत्ति जताई. इसे लेकर कुछ कांग्रेस नेताओं ने सोशल मीडिया पर कमेंट किए, साथ ही कांग्रेस नेताओं ने आपत्ति जताते हुए विरोध में उस स्थान को गंगाजल से पवित्र कर हनुमान चालीसा का पाठ करने का ऐलान कर दिया. कांग्रेस की इस टिप्पणी से भाजपाई भड़क गए . भाजपा के कार्यकर्ता थाने पहुंचे और कांग्रेस के विरोध में जमकर नारेबाजी की. भाजपा नेताओं ने कांग्रेसियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर थाने में देर रात तक हंगामा किया.

इंडियन बॉडी बिल्डिंग फेडरेशन के बैनर तले दो दिवसीय बॉडी बिल्डिंग स्पर्धा का आयोजन स्थानीय विधायक सभागृह में किया गया था. रविवार को दिनभर विभिन्न वर्गों के मुकाबलों में बॉडी बिल्डरों ने प्रदर्शन किया. इस स्पर्धा में पुरुषों के साथ ही महिलाओं ने भी बॉडी बिल्डिंग के पोज दिए, जो विवाद का विषय बन गया. दरअसल जिस मंच पर महिला बॉडी बिल्डर प्रदर्शन कर रही थी, उसपर भगवान बजरंगबली की मूर्ति भी विराजमान थी. इसे लेकर कांग्रेस नेताओं ने आपत्ति जताई.

ये भी पढ़ें: MP BJP ने कोर कमेटी के ‘मंथन’ से निकाला विधानसभा चुनाव में जीत का फॉर्मूला? अब कांग्रेस के छोटे नेता टारगेट पर

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

बेशरम रंग का विरोध करने वाली भाजपा की ऐसी करनी
महिला बॉडी बिल्डर्स प्रदर्शन के दौरान कई बार भगवान बजरंगबली की मूर्ति के आसपास नजर आईं, जिसके वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. कांग्रेस ने वीडियो को देखकर बजरंगबली के सामने इस तरह महिलाओं के प्रदर्शन को अश्लीलता बताया. जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष मयंक जाट और वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं प्रदेश कांग्रेस महामंत्री पारस सकलेचा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के नेताओं एवं महापौर द्वारा ‘बजरंगबली जी की मूर्ति के सम्मुख सनातन धर्म एवं संस्कृति का मजाक उड़ाया गया’. कांग्रेस नेताओं का कहना है कि फ़िल्म पठान में फिल्माए गए बेशरम रंग गीत पर बवाल मचाने वाली भाजपा के महापौर ओर पार्टी नेताओं द्वारा बजरंगबली के सामने ऐसा आयोजन कर अपनी कथनी और करनी में अंतर होना बताया है.

कांग्रेस ने बताया ‘सनातन धर्म और संस्कृति का मजाक’
कांग्रेस नेता मयंक जाट और पारस सकलेचा ने इसे सनातन धर्म और संस्कृति का मजाक बताया. इस मामले ने तूल उस समय पकड़ लिया जब कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा सोशल मीडिया पर कुछ पोस्ट जारी की गई. इन पोस्टों में बॉडी बिल्डिंग स्पर्धा के वीडियो और फोटो जिसमें महिला बॉडी बिल्डर बजरंग बली की प्रतिमा के सामने कॉस्ट्यूम पहनकर प्रदर्शन कर रही हैं. इन फोटो और वीडियो के साथ कुछ कमेंट लिखे गए, जिसको लेकर आयोजन समिति के संरक्षक महापौर प्रह्लाद पटेल सहित भाजपा के कुछ नेता भड़क गए.

ADVERTISEMENT

ये भी पढ़ें: दिग्विजय सिंह ने दी CM शिवराज को “बधाई”, बोले ‘उनको आर्शीवाद नहीं देंगे, 1 रुपए देकर 5 रुपए छीन रहे’

ADVERTISEMENT

भाजपा नेताओं ने थाने में किया हंगामा
महापौर प्रह्लाद पटेल और भाजपा महिला मोर्चा की पदाधिकारी समेत भाजपा नेता एकत्रित होकर देर रात को औद्योगिक क्षेत्र पुलिस थाने पहुचे. थाने में भाजपाइयों ने सोशल मीडिया पर महिला बॉडी बिल्डरों पर कमेंट्स करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर करीब ढाई घण्टे तक हंगामा किया. इस दौरान भाजपा नेताओं ने टीआई के कक्ष में घुसकर जमकर नारेबाजी की. भाजपाइयों की मांग थी कि तत्काल कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें गिरप्तार किया जाए. गिरप्तारी नहीं होने पर सभी लोग थाना परिसर में ही बैठ गए. भाजपाइयों ने थाने के मुख्य द्वार का चेनल गेट बंद कर ताला लगा दिया. पुलिस ने भाजपा जिला महिला मोर्चा उपाध्यक्ष और सासंद प्रतिनिधि भारती पाटीदार सहित अन्य नेताओं की लिखित शिकायत को लेकर 24 घण्टे में कार्रवाई करने का आश्वाशन दिया, तब जाकर भाजपा नेताओं ने हंगामा बंद किया.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT