mptak
Search Icon

कमलनाथ ने मध्यप्रदेश की कानून व्यवस्था पर खड़े किए सवाल, CM शिवराज को लिया निशाने पर

इज़हार हसन खान

ADVERTISEMENT

CM Shivraj Singh Chouhan Kamal Nath mp congress CM Shivraj's taunt cm face
CM Shivraj Singh Chouhan Kamal Nath mp congress CM Shivraj's taunt cm face
social share
google news

mp politics: मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बीच रोजाना ही जुबानी जंग होती है. अब पीसीसी चीफ कमलनाथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को निशाने पर ले रहे हैं. कमलनाथ का कहना है कि सीएम शिवराज सिंह चौहान के राज में मध्यप्रदेश की कानून व्यवस्था बदतर हुई है. मध्यप्रदेश में दूसरे राज्यों की तुलना में कानून व्यवस्था की स्थिति बेहद खराब है.

दरअसल कमलनाथ सीएम शिवराज सिंह चौहान के पुराने बयानों के हवाले से ये बात कह रहे थे. बीते दिनों सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सीएम हेल्पलाइन से कर्मचारियों और आम लोगों को मदद नहीं मिलने की बात कही थी और यहां तक कहा था कि सीएम हेल्पलाइन तो ब्लेकमेलिंग का कारण बनता जा रहा है. 

इसके बाद अब कमलनाथ सीएम के इस बयान को मुद्दा बना रहे हैं और बोल रहे हैं कि अब तो खुद सीएम शिवराज सिंह चौहान स्वीकार कर रहे हैं कि सीएम हेल्पलाइन में झूठी शिकायतें आ रही हैं और कर्मचारियों को न्याय नहीं मिल पा रहा है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

कानून व्यवस्था को लेकर बोले कमलनाथ
कमलनाथ ने कहा, पूरे देश में सबसे ज्यादा गिरी हुई कानून व्यवस्था इस समय कहीं है तो मध्य प्रदेश में है. कमलनाथ ने कहा शिवराज जी का कानून व्यवस्था पर ध्यान नहीं है और अब तो उन्हें खुद ही यह बात स्वीकार करनी पड़ रही है. कमलनाथ ने सिवनी मालवा रवाना होने से पहले अपने आवास पर भोपाल में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए यह बयान दिया. आपको बता दें कि अब विधानसभा चुनाव में कुछ ही महीने शेष रह गए हैं और ऐसे में सीएम शिवराज सिंह चौहान और कमलनाथ ने एक दूसरे पर जमकर जुबानी तीर चला रहे हैं और एक भी मौका नहीं चूक रहे हैं. सीएम शिवराज सिंह चौहान रोज ही पीसीसी चीफ कमलनाथ से सवाल करते हैं और कमलनाथ भी कभी ट्वीट करके या फिर वीडियो जारी करके सीएम शिवराज सिंह चौहान की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करते हैं. हालांकि दोनों पक्षों की तरफ से सिर्फ सवाल दागे जाते हैं लेकिन जवाब कोई नहीं देता है.

ये भी पढ़ें- नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने दी अधिकारियों को चेतावनी, ‘6 महीने बाद चुन-चुनकर देखेंगे’

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT