mptak
Search Icon

VIDEO कॉल पर अश्लील बातें कर प्रेम जाल में फंसाते, फिर करते थे ब्लैकमेल; सेक्सटॉर्शन के बड़े गैंग का भंडाफोड़

आकाश चौहान

ADVERTISEMENT

मंदसौर में सेक्सटॉर्शन के बड़े गैंग का भंडाफोड़ हुआ है.
mandsaur_news
social share
google news

Mandsaur Crime News: मंदसौर पुलिस ने एक बड़े सेक्सटाॅर्शन मामले का भंडाफोड़ किया है‌‌. पुलिस ने वाट्सएप पर वीडियो काॅल कर लोगों को प्रेम जाल में फंसाकर अश्लील बातें के बाद ब्लैकमेल कर रुपये ऐंठने वाले इस गैंग का पर्दाफाश किया है. मंदसौर की नई आबादी थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो महिला सहित एक नाबालिग आरोपी को इस मामले में गिरफ्तार किया है‌. 

असल में, इस बड़े मामले का खुलासा तब हुआ जब गैंग ने रतलाम के दो युवकों बंधक बना लिया और फिर परिवार से रुपये मांगे गए. इससे घबराए परिजन बदमाशों के पास नहीं जाने के बजाए सीधे पुलिस के पास पहुंचे. फिर पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए गैंग के ठिकाने तक पहुंची. पुलिस टीम ने थाना क्षेत्र के मैनपुरिया गांव स्थित एक मकान में दबिश दी और सेक्सटाॅर्शन गैंग में शामिल दो महिलाओं व एक नाबालिग को मोके से गिरफ्तार कर थाने लाया गया है.

प्यारी-प्यारी बातें कर लोगों को फंसाते थे

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने कबूल किया है कि वे मोबाइल पर अनजान काल करते हैं. फिर प्यार भरी बातें कर वाट्सएप पर अश्लील वीडियो काल व चैटिंग के जरीए युवकों के परिजनों से रुपये की डिमांड करते थे‌. पुलिस सूत्रों की मानें तो यह गैंग पिछले दो सालों से एक्टिव थी. लेकिन बार- बार लोकेशन बदलने के कारण पुलिस की पहुंच से दूर रही‌. वहीं, आरोपी महिला के मोबाइल से 2-2 मिनट की 40 अश्लील विडियो क्लिप जप्त की है. वहीं आरोपियों के मकान से लाखों रुपये नगदी भी बरामद की‌ है. 

ये भी पढ़ें: IIT और JEE की तैयारी करने वाले छात्रों ने बनाया किडनैपिंग का प्लान, हैरान कर देगा ये मामला

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

गैंग कर चुकी है 30 लाख रुपये की वसूली

एसपी मंसदौर अनुराग सुजानिया ने पुलिस ने जिस सेक्सटाॅर्शन गैंग का भंडाफोड़ किया है. उस गैंग ने अलग-अलग लोगों से अब तक 30 लाख रुपये से ज्यादा की वसूली की है. पुलिस ने अब तक दो महिलाओं, एक नाबालिग आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. 2 फरार आरोपियों की तलाश है. वही पुलिस आरोपियों के पुराने मामले को भी खंगाल रही है‌. जब्त उपकरणों की जांच भी कि जा रही है‌. पुलिस का मानना है की मामले में गैंग से प्रताड़ित अन्य पीड़ितों तक पहुंचने की कोशिश है. ताकि आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जा सके. 

ये भी पढ़ें: किसान ने CM हेल्पलाइन में की रिश्वतखोरी की शिकायत तो भड़क गए तहसीलदार साहब, बंद कमरे में ले गए और...

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT