आपका जिला

दिव्यांग स्वाभिमान यात्रा…पदयात्रा में शामिल दिव्यांग को वाहन ने कुचला, नेशनल हाईवे पर हुआ लहूलुहान

Divyang, Accident, Madhya Pradesh, Guna, Guna News, Protest
फोटो: विकास दीक्षित

Guna Swabhiman Yatra: दिव्यांगों की 16 सूत्रीय मांगों लेकर हो रही पदयात्रा के दौरान बड़ा हादसा हो गया. हादसे में स्वाभिमान यात्रा में शामिल होने वाला दिव्यांग बुरी तरह घायल हो गया. नेशनल हाईवे पर एक अज्ञात वाहन ने दिव्यांग की ट्राइसाइकिल को रौंद दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया. इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया.

दिव्यांग कालूराम सेन अपने निशक्त पिता से मिलने गया था. लौटते वक्त यात्रा में शामिल होने से पहले सड़क हादसे में कालूराम घायल हो गया. उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल के ट्रॉमा वार्ड में भर्ती कराया गया. कालूराम के सिर में गंभीर चोट भी आई, जिसकी वजह से सिर में 12 टांके आए हैं. स्वाभिमान यात्रा का प्रतिनिधित्व कर रहे सुनील यादव की भी हालत खराब है. सुनील यूरिन बैग को अपने हाथ में लेकर पदयात्रा कर रहा था.

ये भी पढ़ें: सरसों के खेत में अफीम की खेती; पुलिस ने 5 करोड़ रुपये की अफीम जब्त की, छिपाने के लिए किया था ये जुगाड़

16 मांगों को लेकर पदयात्रा
16 सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले 13 दिनों से दिव्यांग राघौगढ़ से लगातार पदयात्रा कर रहे हैं. इस स्वाभिमान यात्रा में 150 दिव्यांग भाग ले रहे हैं. बजट में दिव्यांगों को लेकर खास प्रावधान नहीं किए जाने से भी दिव्यांग नाराज हैं. दिव्यांगों की 16 मांगे हैं, जिनको लेकर पदयात्रा की जा रही है. इनमें पेंशन बढ़ाना, दिव्यांगों का आरक्षण बढ़ाना, पंचायतों से लेकर दोनों सदनों में 5 प्रतिशत आरक्षण करना और उच्च शिक्षा को निशुल्क करने जैसी प्रमुख मांगे शामिल हैं.

मुख्यमंत्री के ऑफर को टाल दिया
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दिव्यांगों के दल से मुलाकात करने का ऑफर दिया था, लेकिन दिव्यांगों ने ये ऑफर टाल दिया और खुद मुख्यमंत्री को उनके समक्ष उपस्थित होने की बात पर अड़े रहे. MPTak ने दिव्यांग स्वाभिमान पदयात्रा की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था, जिसके बाद मुख्यमंत्री ने दिव्यांगों की मांगों पर चर्चा करने की रजामंदी दी थी.

शासकीय योजनाएं कागजों तक सीमित
इससे पहले प्रशासनिक अमला भी दिव्यांगों को मनाने के लिए पहुंचा था, लेकिन दिव्यांग स्वाभिमान यात्रा से पीछे हटने को तैयार नहीं थे. प्रशासनिक अमले ने दिव्यांगों के लिए भोजन, मोबाइल टॉयलेट्स और टेंट की व्यवस्था की है. पदयात्रा का में शामिल सुनील ने पहले सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा था कि क्या दिव्यांग एलियन (बाहरी) हैं, जो उन्हें नहीं पूछा जा रहा है. सुनील ने बताया कि दिव्यांगों को यात्री बस में बैठने की जगह नहीं दी जाती है. शासकीय योजनाएं केवल कागजों तक सीमित है.

MP के घर-घर से मंगाई जाएगी ईंट, ऐसा दिव्य-भव्य होगा सलकनपुर देवी लोक जिस महाकाल लोक में खर्च हुए 856 करोड़, वहां आंधी ने मचाई तबाही Vindhya Expressway से मिलेगी विंध्य के विकास को रफ्तार, जानें …ताकि कूनो में बची रहे चीतों की जान, लोग अब ‘ऊपर वाले’ की शरण में नए संसद भवन में दिखेगी इंदौर के कलाकार की चित्रकारी, देखें MP से है मशहूर सेलिब्रिटीज का कनेक्शन, जानें कौन किस शहर से है? मादा चीता को तलाशने निकली वन अमले पर चली गोलियां, 4 हुए घायल नए पार्लियामेंट हाउस का है MP से खास कनेक्शन, जानें पूरी कहानी रानी रूपमती और बाज बहादुर की अद्भुत प्रेम कहानी, जानें क्यों रह गई अधूरी? अंतरिक्ष में गूंजेगा ‘जय महाकाल’, बाबा के नाम पर इसराे करेगा ये बड़ा काम इस शादी की सिवनी से US तक चर्चा, पंडित को मिली इतनी दक्षिणा कि.. पिता की बात को बेटे जय ने बनाई ताकत, फिर आई UPSC से ये बड़ी खुशखबरी इस सवाल का जवाब देकर आयशा बनी UPSC की ‘सिकंदर’ कॉमेडी के नए अंदाज में दिखेंगे नवाजुद्दीन, फिल्म पर किया ये खुलासा कॉन्फिडेंस और फोकस से संस्कृति ने पाई बड़ी कामयाबी, जानें सक्सेस मंत्र कांग्रेस की नारी सम्मान योजना, महिलाओं का फायदा या वोट की राजनीति, जानें पत्नी की मोहब्बत में पति ने किया ऐसा काम, हर कोई कर रहा चर्चा MP की ये IFS अफसर चर्चा में, किया ऐसा काम, लोग बोले- बेटी बहादुर है.. बाजीराव की मस्तानी के पिता थे महान प्रतापी राजा, क्या आप जानते हैं? ये है MP का स्विट्जरलैंड, प्राकृतिक नजारे देख दिल हो जाएगा बाग-बाग