mptak
Search Icon

राहुल गांधी के MP दौरे पर कैलाश विजयवर्गीय ऐसा क्या बोल गए, जिससे कांग्रेस में मची खलबली?

सैयद जावेद अली

ADVERTISEMENT

राहुल गांधी के MP दौरे पर कैलाश विजयवर्गीय का तंज
राहुल गांधी के MP दौरे पर कैलाश विजयवर्गीय का तंज
social share
google news

Lok Sabha Elections 2024: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी मंडला लोकसभा क्षेत्र के सिवनी जिले की केवलारी विधानसभा के धनोरा में कांग्रेस प्रत्याशी ओमकार सिंह मरकाम (Omkar Singh Markam) के समर्थन में जान सभा करने आ रहे हैं. उनके एमपी दौरे से पहले स्वागत मंच पर लगा पोस्टर चर्चा का विषय बन गया है. अब राहुल गांधी (Rahul gandhi) के एमपी दौरे को लेकर नगरीय विकास एवं आवास मंत्री और मंडला लोकसभा चुनाव के क्लस्टर प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayavargiya) ने तंज कसा है. विजयवर्गीय ने कहा, "राहुल जी जहां जाते हैं वहां निश्चित रूप से हम जीतते हैं इसलिए उनका आना हमारे लिए शुभंकर है.

क्या है वायरल पोस्टर का मामला? 

राहुल गांधी के आने से पहले उनके स्वागत मंच पर एक जोरदार वाकया हो गया. दरअसल, जो फ्लेक्स राहुल गांधी के लिए तैयार किये गए मंच पर लगा था, उस पर कांग्रेस नेताओं के साथ भाजपा प्रत्याशी फग्गन सिंह कुलस्ते की तस्वीर लग गई. जब किसी की नज़र इस पर पड़ी, तो आननफानन में इसे काटकर अलग किया गया और किसी कोंग्रेसी नेता की तस्वीर चिपकाई गई. यह पूरा मामला किसी ने अपने कैमरे में कैद कर लिया जो देखते ही देखते वायरल हो गया और कांग्रेस की फजीहत का सबब बन गया. 

पोस्टर के वायरल वीडियो पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कैलाश विजयवर्गीय ने कहा "राहुल जी जहां जाते हैं वहां निश्चित रूप से हम जीतते हैं इसलिए उनका आना हमारे लिए शुभंकर है. कुलस्ते जी यहां पर लाखों वोटों से जीतेंगे, हमारा विश्वास है. कैलाश विजयवर्गीय ने मंच पर फग्गन सिंह कुलस्ते की तस्वीर लगने पर कहा कि इसका मतलब है कि वह दिल से चाहते हैं कि कुलस्ते जी जीतें. 

वे जहां गए, वहां बीजेपी को सफलता मिली

भाजपा प्रत्याशी फग्गन सिंह कुलस्ते ने भी इस पर चुटकी लेते हुए कहा कि कहीं ना कहीं उनके हृदय में फग्गन सिंह कुलस्ते का नाम है. कुलस्ते ने भी राहुल गांधी को लेकर तंज कसते हुए कहा, "वैसे अभी तक का पुराना अनुभव है जहां भी वे (राहुल)जहां गए हैं वहां बीजेपी को सफलता मिली है. पुराने अनुभव की दृष्टि से मध्य प्रदेश के बारे में मैं कह सकता हूं. करने वाले भी, समर्थक भी, चाहने वाले भी, कहीं ना कहीं उनके हृदय में फगन सिंह कुलस्ते का नाम है और इसलिए शायद ऐसा ध्यान में आया है. परंतु आप लोगों के माध्यम से मुझे पता चला है कि इस प्रकार की भी तस्वीर वहां पर पाई गई बाद में किसी का ध्यान गया होगा. देखिए जो व्यक्ति समाज में काम करता है, उसे हृदय से निकलना थोड़ा कठिन रहता है."

यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT