mptak
Search Icon

लोकसभा चुनाव के बाद क्या शिवराज सिंह चौहान को मिलेगी बड़ी जिम्मेदारी? खुद पूर्व CM ने कर दिया खुलासा

एमपी तक

ADVERTISEMENT

shivraj singh chouhan
shivraj singh chouhan
social share
google news

Lok Sabha Elections 2024: मध्य प्रदेश की सबसे हाई प्रोफाइल सीट विदिशा बीजेपी का मजबूत किला मानी जाती है. इस सीट से इस बार 5 बार के सांसद और 4 बार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनावी मैदान में है. हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव के बाद मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव को बनाया गया है. तभी से शिवराज सिंह चौहान के राजनीतिक भविष्य को लेकर चर्चांए तेज हैं, कि आखिर पार्टी ने उनके लिए क्या सोचा है. विदिशा लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाए जाने के बाद अगर बीजेपी की सरकार वापस आती है तो शिवराज सिंह चौहान को केंद्र में बड़ी जिम्मेदारी मिलना तय है.

दरअसल हाल ही में शिवराज सिंह चौहान ने इंडिया टुडे ग्रुप के चैनल को दिए इंटरव्यू में कई खुलासे किए हैं. सोशल मीडिया समेत कई तरह की चल रही अफवाहों को लेकर भी पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने खुलकर बातचीत की है. इस दौरान शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया है कि प्रदेश की सभी 29 लोकसभा सीटें बीजेपी जीतने जा रही है. छिंदवाड़ा सीट कमलनाथ खुद अपने कारण हार रहे हैं. उनको अब खुद पर ही विश्वास नहीं रहा यही कारण है कि उनके साथी लगातार उनका साथ छोड़ रहे हैं.


लोकसभा चुनाव लड़ने के पीछे की वजह

शिवराज सिंह चौहान लगातार 4 बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं. उनकी पहचान आज भी मामा और भैया के रूप में की जाती है. मुख्यमंत्री बनने के पहले वे विदिशा लोकसभा सीट से 5 बार सांसद भी रह चुके हैं. छठी बार चुनावी मैदान में होने के कारण सभी कयास लगाए जा रहे हैं कि पार्टी उनको केंद्र में सेट करने का मन बना चुकी है. इस बारे में शिवराज सिंह चौहान से जब पूछा गया तो उन्होंने बताया कि "भारतीय जनता पार्टी पुर्ननिर्माण का आंदोलन है. जब आप किसी अभियान के अंग होते है, तो वह मिशन ही आपका काम तय करता है कि आप क्या काम करेंगे. यही कारण है कि मैंने कभी तय नहीं किया कि मैं कहां काम करूंगा. 

शिवराज आगे कहते हैं "मुझे मिशन के तहत कहा गया कि विधायक बनों मैं बना, मुझसे कहा गया सांसद बनो मैं बना, मुझसे कहा गया मुख्यमंत्री मैं बना और फिर मुझसे कहा गया कि सांसद का चुनाव लड़ो मैं लड़ रहा हूं. पार्टी मुझसे जो काम लेना उचित समझेगी मैं वही काम करूंगा"

 

 

आपको बता दें राजनीतिक जानकार और शिवराज को करीब से जानने वाले बताते हैं कि विदिशा से जीत के बाद शिवराज सिंह चौहान को बीजेपी की केंद्र की सरकार कोई बड़ा मिल मिलना पक्का है. ऐसा इसलिए क्योंकि शिवराज बीजेपी में बड़े नेताओं की सूची में शामिल हैं, और चार बार के मुख्यमंत्री रहे हैं ऐसे में पार्टी ने उनके लिए जरूर कुछ अच्छा और बड़ा विकल्प पहले से तलाश रखा होगा.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

नए सीएम मोहन यादव को लेकर क्या बोले पूर्व सीएम शिवराज

नए सीएम डॉ मोहन यादव को लेकर जब पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया गया कि नए सीएम कैसा काम कर रहे हैं, तो इस पर उन्होंने जवाब दिया "बहुत अच्छा"

उन्होंने आगे कहा "आत्मकेंद्रित व्यक्ति ही ऐसा सोचता है कि मै ही अच्छा काम कर रहा था" "जब आपका दृष्टिकोण व्यापक होता है तो जो आपने किया उससे बेहतर आपका साथी करें आपके जाने के बाद तो आप बेहतर इंसान हैं, नहीं तो आप बेहतर हैं ही नहीं... मैं ये मानता हूं मेरे बाद मोहन जी सरकार में आने के बाद मुझसे बेहतर काम कर रहे हैं" "जहां उनको मेरे सहयोग की आवश्यता होती है मैं करता हूं और हमेशा हमलोग बात करते रहते हैं. 

जनता से मेरा भैया और मामा का ही रिश्ता- शिवराज

शिवराज सिंह चौहान कहते हैं जनता की सेवा ही भगवान की सेवा है. अगर आप इमानदारी से लोगों की सेवा और उनके लिए काम करते हैं. तो उनके मन में भी आपका स्थान बनता है. मेरा जनता से कोई राजनीतिक रिश्ता नहीं है. मेरा कल भी मामा और भैया का रिश्ता था और आज भी यही रिश्ता है. लोग मुझसे प्यार करते हैं और मैं उनसे प्यार करता हूं. यही कारण है कि आज भी मुझसे प्रदेश में कोई भी आकर सीधे गले मिलता है. 
 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT